अडानी समूह बनाएगा गंगा एक्सप्रेसवे, यूपी चुनाव में विपक्ष के निशाने पर आ सकते हैं पीएम मोदी

अडानी समूह बनाएगा गंगा एक्सप्रेसवे, यूपी चुनाव में विपक्ष के निशाने पर आ सकते हैं पीएम मोदी

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में बनने जा रहे गंगा एक्सप्रेसवे को अडानी समूह बनाएगी. अडानी समूह की प्रमुख कंपनी अडानी इंटरप्राइजेज लिमिटेड को गंगा एक्सप्रेसवे के तीन प्रमुख हिस्सों के क्रियान्वयन को लेकर यूपीईआईडीए की ओर से स्वीकृति पत्र जारी हुआ है. 

अडानी इंटरप्राइजेज ने कहा है कि है वे गंगा एक्सप्रेस वे के इस चरण में छह लेन की सडकों का निर्माण करेगी जिसे बाद में बढ़ाकर आठ लेन तक किया जा सकता है. इसमें रिरायत अवधि 30 साल है. 594 किमी के गंगा एक्सप्रेसवे के बदायूं से प्रयागराज के बीच 464 किमी सड़क का निर्माण अडानी समूह को करना है. यह कुल परियोजना का 80 फीसदी है.

पिछले सप्ताह ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गंगा एक्सप्रेसवे का शिलान्यास किया था. उन्होंने इस परियोजना को उत्तर प्रदेश के लिए वरदान और भविष्य में यूपी में निवेश और रोजगार के नए अवसर प्रदान करने वाली सड़क परियोजना कहा था. 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के पूर्व यह मोदी सरकार का यूपी को दिया गया बड़ा तोहफा माना जा रहा है. हालाँकि राजनीतिक विशेषज्ञों की माने तो अब इस परियोजना का निर्माण कार्य अडानी समूह को जारी होने से एक बार फिर विपक्षी दल इसे चुनाव में मुद्दा बना सकते हैं. विपक्षी नेता कई बार मोदी सरकार को अडानी का मित्र बता चुके हैं. 


Find Us on Facebook

Trending News