70 दिन बाद परिवार में आई खुशियां : किसान के घर की बहू बनेगी दिवंगत शहाबुद्दीन की डॉक्टर बिटिया, जानिए क्या करता है होनेवाला दूल्हा

70 दिन बाद परिवार में आई खुशियां : किसान के घर की बहू बनेगी दिवंगत शहाबुद्दीन की डॉक्टर बिटिया, जानिए क्या करता है होनेवाला दूल्हा

SIWAN : सिवान के पूर्व सांसद दिवगंत मो. शहाबुद्दीन के निधन के 70 दिन परिवार में नई खुशियों ने दस्तक दी है। शनिवार को मरहूम शहाबुद्दीन की लाडली बिटिया हेरा शहाब की सगाई मोतिहारी के रानी कोठी पुरानी हवेली में सैयद मो. शादमान से हुई। मो. शादनान मोतिहारी के रहने वाले हैं। समारोह में पूर्व सांसद के पुत्र ओसामा शहाब के साथ बिहार के पूर्व मंत्री अब्दुल बारी सिद्दीकी, पूर्व मंत्री व सिवान सदर विधायक अवध बिहारी चौधरी, रघुनाथपुर विधायक हरिशंकर यादव समेत कई नेता शामिल हुए। जहां परिवार में आई इस नई खुशी को लेकर प्रसन्नता झलक रही थी, वहीं दूसरी तरफ पूर्व सांसद की कमी भी यहां महसूस की गई। 

एमबीबीएस हैं हेरा और शादमान

हेरा शहाब एक एमबीबीएस पास डॉक्टर हैं। वहीं शादमान ने लखनऊ से एमबीबीएस की डिग्री ली है। शादमान भाई में अकेले हैं। उन्हें दो बड़ी बहनें व और एक छोटी बहन हैं।

वर के पिता संपन्‍न किसान

शादमान पूर्वी चंपारण के जिला मुख्यालय स्थित ज्ञान बाबू चौक के समीप रानी कोठी निवासी जिले के संपन्न किसान सैयद इफ्तेखार अहमद के पुत्र हैं। पूर्वी चंपारण जिले में उनकी काफी सामाजिक प्रतिष्ठा है। उनके पास आलीशान रानी कोठी, हाथी-घोड़े और मार्केट के अलावा काफी जमीन-जायदाद है। उनके चाचा सैयद इम्तियाज अहमद पुराने फ्रीलांसर फोटोग्राफर हैं।

राजद नेता की मौजूदगी 

गौरतलब है कि शुक्रवार की देर रात राजद के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री अब्दुल बारी सिद्दीकी मो. शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा शहाब से मिलने सिवान पहुंचे। पूर्व मंत्री ने बंद कमरे में ओसामा से घंटों बातचीत की। पूर्व मंत्री ने कहा कि मैं व्यक्तिगत कारणों से यहां आया हूं, ना कि किसी राजनीतिक कारण से।

बता दें कि मोहम्मद शहाबुद्दीन की बीते एक मई को कोरोना से ग्रसित होने के बाद इंतकाल हो गया था। जिसके बाद परिवार में यह पहला खुशी का माहौल है।


Find Us on Facebook

Trending News