आखिर क्यों नेता प्रतिपक्ष के खिलाफ ईडी की कार्रवाई नहीं होती, यह सवाल पूछकर जाप प्रमुख ने कर दिया बड़ा बवाल

आखिर क्यों नेता प्रतिपक्ष के खिलाफ ईडी की कार्रवाई नहीं होती, यह सवाल पूछकर जाप प्रमुख ने कर दिया बड़ा बवाल

PATNA : भाजपा पर यह आरोप लगता रहा है कि वह देश की जांच एजेंसियों का इस्तेमाल अपने फायदे के लिए कर रही है। ऐसे में बिहार में आखिरकार पार्टी तेजस्वी यादव के खिलाफ किसी प्रकार की कार्रवाई क्यों नहीं करती है। यह सवाल उठाया है जाप प्रमुख पप्पू यादव ने।

पप्पू यादव ने कहा है कि तेजस्वी पर इतने सारे केस हैं फिर ईडी (ED) उनपर कार्रवाई क्यों नहीं करती।  जाप अध्यक्ष ने इसके पीछे की वजहों के बारे में बताया है। पप्पू यादव ने कहा है कि अन्य नेताओं पर ईडी का केस दर्ज होने के बाद उनपर कार्रवाई होती है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) से भी पूछताछ हुई। लेकिन वो कौन सा कारण है कि तेजस्वी पर इतने सारे केस होने के बाद भी ईडी उनपर कार्रवाई नहीं करती? उन्होंने आरोप लगाया है कि तेजस्वी की बीजेपी के साथ सेटिंग है। 

नीतीश से नजदीकी बढ़ी तो घर में हुई छापेमारी

जाप प्रमुख ने कुछ माह पहले राबड़ी आवास में हुई सीबीआई की छापेमारी पर भी सवाल उठाए हैं। पप्पू यादव का आरोप है कि बीजेपी यह कभी नहीं चाहती है कि बिहार में तेजस्वी यादव बिहार के सीएम के नजदीक जाएं। उन्होंने बताया कि हाल में राबड़ी आवास समेत लालू यादव के अन्य ठिकानों पर पड़े छापे की वजह भी सबको पता है। उन्होंने आरोप लगाया कि सीएम नीतीश कुमार से नजदीकी बढ़ने के बाद यह रेड हुई। 

गौरतलब है कि बिहार में राष्ट्रपति चुनाव के दिन नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने यह बयान दिया था कि भाजपा के केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय उनसे मिलने के लिए आए थे और राजद में शामिल होने की इच्छा जताई थी। जिस पर भाजपा ने पलटवार किया था। पार्टी के कई नेताओं ने इसे झूठ करार दिया था। उनका कहना था कि तेजस्वी यादव खुद केंद्रीय गृह राज्य मंत्री से मिलने के लिए पहुंचे थे और उनसे भाजपा का समर्थन करने की बात कही थी, साथ ही यह मांग की थी कि उनके परिवार के खिलाफ चल रहे सारे कानूनी केस खत्म कर दिए जाएं।


 

Find Us on Facebook

Trending News