टारगेट किलिंग बढ़ने के बाद श्रीनगर में तैनात 177 कश्मीरी पंडित शिक्षकों का हुआ तबादला, हिंदुओं की सुरक्षा के लिए कई बड़े निर्णय

टारगेट किलिंग बढ़ने के बाद श्रीनगर में तैनात 177 कश्मीरी पंडित शिक्षकों का हुआ तबादला, हिंदुओं की सुरक्षा के लिए कई बड़े निर्णय

DESK. हाल के दिनों में कश्मीरी पंडित और हिन्दुओं पर बढ़ते हमले की वजह से जम्मू कश्मीर के श्रीनगर से 177 शिक्षकों का तबादला कर दिया गया है. जिनका तबादला किया गया है उसमें ज्यादातर हिंदू और सिख समुदाय के लोग हैं. माना जा रहा है कि हिंदुओं पर बढ़ते हमले को देखते हुए तबादला का यह फैसला लिया गया है. गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में हुई उच्च स्तरीय बैठक में कई निर्णय लिए गए थे जिसमें सरकारी कर्मियों को सुरक्षित जगहों पर तबादला भी शामिल था. श्रीनगर स्थित चीफ एजुकेशन ऑफिसर की ओर से जारी एक पत्र में कहा गया है कि 177 शिक्षकों का तबादला किया गया है. 

बता दें कि प्रधानमंत्री के विशेष पैकेज के तहत 2012 में हजारों कश्मीरी पंडितों को सरकारी जॉब देकर कश्मीर भेजा गया था. टारगेट किलिंग की घटनाए बढ़ने के बाद कश्मीरी पंडित अपने लिए सुरक्षा की मांग कर रहे है. इसके साथ ही घाटी से कश्मीरी पंडितों का पलायन भी शुरू हो गया है. कश्मीरी पंडितों की मांग है कि उन्हें कश्मीर से जम्मू या किसी और सुरक्षित जगह ट्रांस्फर किया जाए.

12 मई को मध्य कश्मीर के बडगाम जिले के चदूरा इलाके में आतंकियों ने राहुल भट की हत्या कर दी थी। इसके बाद से कश्मीरी पंडित अपनी मांगों को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। करीब 6000 सरकारी कर्मचारियों ने विरोध प्रदर्शन किया है। दूसरी ओर कश्मीर में टारगेट किलिंग की घटनाएं बढ़ गईं हैं। मई में आतंकियों ने 9 लोगों को चुनकर निशाना बनाया। गुरुवार को कश्मीर में दो लोगों (एक बैंक कर्मचारी और एक ईंट भट्ठा मजदूर) की आतंकियों ने हत्या कर दी। जम्मू क्षेत्र के सांबा जिले की रहने वाली एक महिला शिक्षिका की मंगलवार को दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले के एक स्कूल में आतंकवादियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।


Find Us on Facebook

Trending News