शादी, अंतिम संस्कार के बाद अब बाढ़ के पानी के बीच घिरे गांव में शराबखोरी का कारोबार, छापेमारी के लिए नाव से गई पुलिस

शादी, अंतिम संस्कार के बाद अब बाढ़ के पानी के बीच घिरे गांव में शराबखोरी का कारोबार, छापेमारी के लिए नाव से गई पुलिस

MUZAFFARPUR : बाढ़  के पानी के बीच में लोगों ने शादियां देखी हैं, यहां तक कि जुगाड़ से अंतिम संस्कार भी होने लगे। अब इतना सब कुछ हो रहा तो शराब के काले धंधे में लिप्त लोग कैसे बैठे रहते। उन्होंने भी बाढ़ के पानी से घिरे गांव में अपना धंधा शुरू कर दिया। इस बात का खुलासा तब हुआ जब कार्रवाई करने पहुंची। छापेमारी करने पहुंची पुलिस भी किसी गाड़ी से नहीं, बल्कि जुगाड़ से बने नाव पर गई। जिससे समझा जा सकता है कि बाढ़ की क्या स्थिति है। 

मामला जिले के साहेबगंज थाना क्षेत्र का बताया जा रहा है।  थानाध्यक्ष अनूप कुमार को मिली गुप्त सूचना के आधार पर  एक टीम गठित कर नाव के सहारे छापेमारी किया तो छापेमारी के दौरान चुलाई शराब बनाने वाली कई सामग्रियों को विनष्ट किया गया। लेकिन सबसे बड़ी बात है कि इन दिनों बाढ़ की आड़ में शराब बनाने वाले शराब कारोबारी चांदी काट रहे। क्योंकि बाढ़ की पानी से कई इलाका जलमग्न है। जिसका फायदा उठाते हुए बाढ़ के पानी से टापू बने जंगलों में चुलाई शराब के कारोबारी शराब की निर्माण करने का धंधा धड़ल्ले से चला रहा था।

 पुलिस ने रेड मारकर सभी सामग्री को नष्ट कर दिया गया है तो वहीं कुछ सामग्री को जप्त भी कर लिया है। मामले की जानकारी साहेबगंज थाना अध्यक्ष अनूप कुमार ने दी।

Find Us on Facebook

Trending News