तेजस्वी के बाद BJP सांसद ने CM नीतीश से की बड़ी मांग, मुखिया व पंचायत प्रतिनधियों का विस्तारित करें कार्यकाल

तेजस्वी के बाद BJP सांसद ने CM नीतीश से की बड़ी मांग, मुखिया व पंचायत प्रतिनधियों का विस्तारित करें कार्यकाल

PATNA: नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के बाद, अब सरकार में बड़े भाई की भूमिका वाली बीजेपी के सांसद ने पंचायत प्रतिनिधियों के खत्म हो रहे कार्यकाल बढ़ाने को लेकर बड़ी मांग की है। पाटलिपुत्र से बीजेपी सांसद रामकृपाल यादव ने इस संबंध में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखा है।

सांसद रामकृपाल यादव ने अपने पत्र में लिखा है कि कोरोना महामारी के चलते बिहार में साल 2021 में होने वाला पंचायत चुनाव फिलहाल टलने के हालात में है। चुनाव नहीं होने की स्थिति में त्रिस्तरीय पंचायत राज व्यवस्था के समक्ष एक संवैधानिक संकट पैदा हो जाएगा। केंद्र सरकार और राज्य सरकार के अधिकतर योजनाएं, जो पंचायतों के विकास से संबंधित है, उनको पूरा करने में भी प्रशासनिक संकट पैदा हो सकता है। इस हालात को देखते हुए बिहार सरकार को विधि सम्मत निर्णय लेना होगा, ताकि त्रिस्तरीय पंचायत राज व्यवस्था प्रभावी ढंग से गांव के विकास में पूर्ववत कार्य करती रहे।

इसके अलावा सांसद रामकृपाल यादव ने बिहार प्रदेश मुखिया महासंघ के अध्यक्ष अशोक सिंह का पत्र भी अपने पत्र के साथ संलग्न किया है। इस पत्र के माध्यम से उन्होंने बताया कि बिहार प्रदेश मुखिया महासंघ ने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया था कि पंचायती राज व्यवस्था के तहत जनप्रतिनिधियों को प्राप्त अधिकार शक्ति और कर्तव्यों को बिहार पंचायत चुनाव के होने तक विस्तारित किया जाए। इसके अलावा त्रिस्तरीय पंचायत राज व्यवस्था के कई जनप्रतिनिधि ने इस आशय की मांग की है। इस मांग के पीछे इन जनप्रतिनिधियों की कई वाजिब चिंता है। प्रथम दृष्टया इनकी मांग सासंद को भी उचित प्रतीत होती है।

अपने पत्र का अंत करते हुए रामकृपाल यादव ने मुख्यमंत्री से विनम्र अनुरोध किया है कि इस संबंध में जल्द निर्णय लें। साथ ही पंचायती राज व्यवस्था के सभी स्टेक होल्डर से समुचित संवाद कर विधि सम्मत निर्णय लें।

Find Us on Facebook

Trending News