पटना के अलग-अलग रूटों पर चले सरकारी बस, पटना प्रमंडल माध्यमिक शिक्षक संघ ने की मांग

पटना के अलग-अलग रूटों पर चले सरकारी बस, पटना प्रमंडल माध्यमिक शिक्षक संघ ने की मांग

PATNA : पटना प्रमंडल माध्यमिक शिक्षक संघ के सचिव चंद्र किशोर कुमार ने पटना के जिलाधिकारी व जिला शिक्षा पदाधिकारी को पत्र लिखकर पटना जिला के विभिन्न सडक रूटो में यथा मरांची, डुमरी, पालीगंज, मसौढी, विक्रम आदि इलाकों में बिहार राज्य पथ परिवहन की विशेष बसों को चलाने का अनुरोध किया है. ताकि इन सुदूर इलाकों में रेल सेवा बाधित रहने तथा आवागमन के साधनों की समुचित संख्या में परिचालन व्यवस्था नहीं रहने के कारण जिला के शिक्षक विशेषकर महिला और दिव्यांग शिक्षक अपने विद्यालयों में कर्तव्य पर उपस्थित हो सके. 

उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान राज्य सरकार ने विशेषकर महिला और विकलांग शिक्षकों को अपने घर के आस-पास के विद्यालयों एवं कोरोंटाईन सेंटरों में योगदान कर सेवा देने का निर्देश दिया था. लेकिन पिछले दिनों जिला शिक्षा पदाधिकारी ने बिना स्थिति के समीक्षा किए हुए महिला एवं दिव्यांग शिक्षकों को उनके मूल विद्यालयो में योगदान करने व प्रतिदिन विद्यालयों में ही रहकर कार्य करने का फरमान जारी कर दिया.  

कुमार ने कहा कि अनलॉक होने के बाद भी एक तरह जहां लोकल रेल सेवा बंद हैं तो वहीं दूसरी तरफ आवागमन के साधन भी अभी सुगम नहीं हुए हैं. इससे जिला के इन सुदूर इलाकों के लिए कोई भी सीधी सवारी व व्यवस्था नहीं है. साथ ही सरकार के निर्देशानुसार फिजिकल डिस्टेसिंग का भी पालन करना है. ऐसे में शिक्षकों को जहां अनावश्यक अधिक पैसे खर्च करने पड़ रहे हैं. वहीं आने जाने में कई जगह सवारी बदलने के कारण परेशानी के साथ साथ अत्यधिक समय भी लग रहा है. जबकि सभी विद्यालयों में पठन-पाठन भी स्थगित है.  

उन्होंने मांग की है कि जब तक रेल सेवा एवं अन्य परिचालन सामान्य नहीं हो जाता है. तब तक शिक्षकों के लिए बिहार राज्य पथ परिवहन की विशेष बसों का परिचालन सुदूर इलाकों के रूटों पर की जाए या पूर्व की तरह शिक्षकों को विशेष कर महिला व दिव्यांग शिक्षकों को उनके घर के आस-पास के विद्यालयों में ही रहकर सेवा देने का निर्देश दिया जाय. 

पटना से विवेकानंद की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News