AMIT SHAH की जनभावना रैली आज : पूर्णिया की रैली में एक लाख से ज्यादा लोगों के बीच 2024 के लोकसभा के चुनाव के लिए करेंगे शंखनाद

AMIT SHAH की जनभावना रैली आज : पूर्णिया की रैली में एक लाख से ज्यादा लोगों के बीच 2024 के लोकसभा के चुनाव के लिए करेंगे शंखनाद

PATNA/PURNIA : केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह शुक्रवार से 2 दिनों के बिहार दौरे पर आ रहे हैं। वो 2 दिन सीमांचल में रहेंगे। 23 को पूर्णिया में जनसभा के बाद 24 को कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे। इस दौरान आज  रंगभूमि मैदान में बीजेपी की विशाल जनभावना रैली को संबोधित करेंगे, इसमें करीब डेढ़ से दो लाख कार्यकर्ताओं के शामिल होने की संभावना है। सत्ता से हटने के बाद बिहार में बीजेपी की यह पहली बड़ी रैली है। 2024 के प्रचार का शंखनाद करेंगे। इसके अलावा अमित शाह किशनगंज जिले का दौरा भी करेंगे।

कार्यक्रम को लेकर की गई है भव्य तैयारी

केंद्रीय गृह मंत्री के कार्यक्रम को लेकर भाजपा की तरफ से भव्य तैयारी की गई है। पूर्णिया में आमित शाह की रैली के लिए 56 स्कवायर फीट लंबा और 28 स्कवायर फीट चौड़ा मंच बनाया गया है। मंच को भगवा रंग से सजाया गया है। मंच पर दस कुर्सियां होंगी। दो एसी भी लगाए गए हैं। मंच के बगल में सेफ हाउस बनाया गया है। जहां एयरपोर्ट से आने के बाद केंद्रीय गृह मंत्री कुछ वक्त रुकेंगे। इसके बगल में ही वीआईपी लाउंज है। 

कार्यकर्ताओं के लिए तीन पंडाल बनाए गए हैं। 30 मीटर चौड़ा और 60 मीटर लंबा दो पंडाल और 40 मीटर लंबा और 100 मीटर चौड़ा एक पंडाल बनाया गया है। दस हजार कुर्सियां लगाई गई हैं। बाकी लोग स्टेडियम में खड़े होकर भाषण सुनेंगे। जगह-जगह पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कट आउट लगाए गए हैं। मंच से लेकर पंडाल वाटर और फायर प्रूफ बनाया गया है। स्टेडियम के चारों ओर होर्डिंग्स और बोर्ड लगाए गए हैं।


किशनगंज में अधिक समय

शाह के बिहार दौरे का प्लान भी सामने आ गया है। अपने दौरे में शाह चार घंटे पूर्णिया में तथा 26 घंटे से ज्यादा का समय किशनगंज में गुजारेंगे। शाह के किशनगंज दौरा महत्वपूर्ण माना जा रहा है। क्योंकि राज्य की सीमा पर स्थित यह जिला मुस्लिम बहुल है,  जहां भाजपा की स्थिति बाकी जिलों की तुलना में बेहद ही कमजोर है। अमित शाह की कोशिश किशनगंज को मजबूत करना बाकि जिलों को कार्यकर्ताओं में उत्साह भरना है।

यह है पूरा कार्यक्रम

केंद्रीय गृह मंत्री शुक्रवार सुबह चुनापूर हवाई अड्डा पहुंचेंगे। वहां से सीधे पूर्णिया के रंगभूमि मैदान आएंगे। यहां दोपहर 12 बजे रैली शुरू होगी, जो 3 बजे तक चलेगी। इसके बाद शाह वापस चुनापूर हवाई अड्डा लौटेंगे और वहां से हेलिकॉप्टर के जरिए खगड़ा किशनगंज के लिए रवाना होंगे। किशनगंज में वे माता गुजरी विश्वविद्यालय में रुकेंगे। शाम 4 से रात 9 बजे तक यहां बीजेपी नेताओं के साथ बैठकें होंगी और फिर डिनर का कार्यक्रम है। 

अगले दिन शनिवार को अमित शाह बूढ़ी काली मंदिर के दर्शन कर पूजा-अर्चना करेंगे। इसके बाद फतेहपुर नेपाल बॉर्डर पर स्थित एसएसबी कैंप जाएंगे। यहां अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे और सीमा पर सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा होगी। दोबारा वे माता गुजरी विश्वविद्यालय लौटेंगे, जहां जिला कोर कमिटी की बैठक करेंगे। इसके बाद पूर्णिया हवाई अड्डे से शाम में दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे। 



Find Us on Facebook

Trending News