बेहद खास हैं आनंद मोहन के होनेवाले दामाद राजहंस, जानिए किस जॉब में है और कैसे हुआ रिश्ता

बेहद खास हैं आनंद मोहन के होनेवाले दामाद राजहंस, जानिए किस जॉब में है और कैसे हुआ रिश्ता

PATNA : बीते सात नवंबर को बाहुबली नेता आनंद मोहन की बेटी सुरभि आनंद की सगाई पटना में धूमधाम से हुई। सगाई में बिहार के सीएम और डिप्टी सीएम के साथ राजनीति के दिग्गज धुरंधर शामिल हुए। लेकिन बहुत लोगों को इस बात की जानकारी नहीं मिली की आनंद मोहन के होने वाले दामाद राजहंस सिंह कौन हैं, क्या काम करते हैं और उनका परिवार के साथ आनंद मोहन के परिवार का रिश्ता कैसे जुड़ा।  

जहां सुरभि आनंद भी पेशे से वकील हैं। वहीं राजहंस  सिंह यूपीएससी क्वालीफाई कर चुके हैं। 2019 में इन्होंने यूपीएससी की परीक्षा क्वालीफाई की। इसमें इन्हें 660वां रैंक हासिल हुआ। फिलहाल, राजहंस सिंह फिलहाल इंडियन रेलवे के IRTS (इंडियन रेलवे ट्रैफिक सर्विस) में बड़े पद पर कार्यरत हैं। 

पढ़ाई में हमेशा रहे अव्वल, NIT पास किया, टाटा ग्रुप के लिए किया काम

राजहंस कुमार सिंह की 10वीं तक की शिक्षा मुंगेर के सरस्वती शिशु मंदिर से हुई है। मैट्रिक की पढ़ाई पूरी करने के बाद ये आगे की पढ़ाई पूरी करने के लिए पटना आ गए। पटना के बाद ये कुछ दिन के लिए हैदराबाद भी गए। इसके बाद इन्होंने नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (NIT) दुर्गापुर से बीटेक की डिग्री ली।  बीटेक की डिग्री पूरी करने के बाद उन्होंने टाटा ग्रुप के साथ दो साल की नौकरी भी की है। नौकरी के साथ ही उन्होंने यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी भी की। वे लगातार दो बार इस परीक्षा में फेल होने के बाद हिम्मत नहीं हारे। तीसरे अटेंप्ट में उन्हें कामयाबी मिली। 


पारिवारिक संबंध 

राजहंस का परिवार मूल रूप से बिहार के मुंगेर के रहने वाला है। बताया गया आनंद मोहन और राजहंस सिंह के परिवार की पुरानी पहचान है। आनंद मोहन जब सियासत में शिखर पर थे तब मुंगेर यात्रा के दौरान वे राजहंस के दादा मोहन सिंह से जरूर मिलते थे। इतना ही नहीं आनंद मोहन की पत्नी लवली आनंद भी इस घर में चुड़ा-दही खाने जाया करती थी।

इस तरह तय हुआ रिश्ता

राजहंस के रिश्ते में चचेरे भाई और दोस्त संतोष की इस शादी में सबसे बड़ी भूमिका है। संतोष आनंद मोहन के बेटे चेतन आनंद के भी दोस्त हैं। चेतन आनंद ने जब उनसे बहन की शादी की जिक्र की तब उन्होंने राजहंस सिंह का प्रपोजल दिया। इसके बाद बड़तुहारी(अगुआई) की प्रक्रिया शुरू हुई। हालांकि राजहंस फिलहाल 1-2 साल शादी नहीं करना चाहते थे लेकिन सुरभि की शिक्षा और परिवार के निर्देश के बाद उन्होंने अपना फैसला बदला और शादी के लिए तैयार हो गए।


Find Us on Facebook

Trending News