अरवल BJP कैंडिडेट कथित धमकी मामलाः पोस्टर नक्सलियों ने चिपकाया या इसके पीछे है खास मकसद,पुलिस इन प्वाइंट्स पर कर रही जांच

अरवल BJP कैंडिडेट कथित धमकी मामलाः पोस्टर नक्सलियों ने चिपकाया या इसके पीछे है खास मकसद,पुलिस इन प्वाइंट्स पर कर रही जांच

PATNA: बिहार विधान सभा चुनाव में अरवल से बीजेपी कैंडिडेट रहे दीपक शर्मा को कथित तौर पर नक्सलियों ने जान से मारने की धमकी दी है। कथित नक्सलियों का धमकी वाला पोस्टर वायरल हो रहा है। वायरल पोस्टर के आधार पर अरवल से लेकर पटना तक तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं।पोस्टर की लिखावट और बिना फोल्ड वाले कागज को लेकर तरह-तरह की चर्चा चल पड़ी है। इन सब के बीच अरवल पुलिस पोस्टर की सत्यता की जांच कर रही है. 

क्या नक्सली अब कंप्यूटर से काला प्रिंट निकाल रहे पोस्टर?

पुलिस सूत्रों ने बताया कि जिस तरह के पोस्टर लगाए गए हैं वो नक्सलियों का स्टाइल नहीं है। बिहार में अब तक ऐसा देखने को नहीं मिला है कि नक्सली कंप्यूटर पर टाइप करा कर पोस्टर निकलवाते हैं और उसे चिपकाते हैं। ऐसा कहीं भी देखने को नहीं मिला है। साथ हीं नक्सली अधिकांश पोस्टर अपने हाथ से लाल कलम से लिखते हैं। पुलिस सूत्रों की मानें तो जो पोस्टर चिपकाया गया है उसे देखने से लग रहा कि उसे कंप्यूटर से तत्काल निकलवाकर चिपकाया गया, फिर फोटो लेकर वायरल किया गया है। क्यों कि कंप्यूटराइज्ड कागज जिस पर धमकी वाला प्रिंट निकाला गया है वो कहीं पर भी फोल्ड यानी मरोड़ नहीं है. अगर नक्सली कहीं पर कंप्यूटराइज्ड पोस्टर लगाते हैं उसका भी प्रिंट लाल होता है। पुलिस इन तमाम बिंदूओं पर अनुसंधान कर रही है.

क्या कह रही अरवल पुलिस

वहीं, अरवल जिला पुलिस का कहना है कि इस तरह का एक पोस्टर वायरल हो रहा है। उसकी सत्यता की जांच की जा रही है। क्या वो वास्तविक है या किसी खास नियत से इस तरह के पोस्टर साटे गए हैं इसके बारे में पूरी पड़ताल की जा रही है,उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।गौरतलब है कि अरवल इलाके में काफी दिनों से नक्सली गतिविधि बिल्कुल बंद है। पुलिस पुर्व के तमाम प्वाइंट्स पर भी गौर कर रही है.

Find Us on Facebook

Trending News