औरंगाबाद सदर अस्पताल बना पॉकेटमारों का ऐशगाह, यहां बीमारी के बदले जेबकतरों से भी रहना पड़ता है सावधान

औरंगाबाद सदर अस्पताल बना पॉकेटमारों का ऐशगाह, यहां बीमारी के बदले जेबकतरों से भी रहना पड़ता है सावधान

औरंगाबाद। सदर अस्पताल औरंगाबाद में पॉकेटमारी की घटनायें थमने का नाम नहीं ले रही है। एक बार फिर अस्पताल में पॉकेटमारी की घटना घटी है जहां लोगों ने एक पॉकेटमार को रंगे हाथों पकड़ लिया और उसकी जमकर धुनाई कर पुलिस को सौंप दिया। 

पॉकेटमारी की घटना होने के बाद अस्पताल परिसर में अफरा-तफरी मच गई और पकड़े गए पॉकेटमार पर भीड़ ने जमकर लात-घूंसे चलाये. इस दौरान कई लोगों ने बताया कि आए दिन यहां ऐसी घटनाएं होती रहती हैं. लोगों को यहां आने पर जेबकतरे से बचकर रहने की चुनौती झेलनी पडती है. 

वहीं पॉकेटमारी की सूचना मिलते ही अस्पताल प्रबंधक हेमंत राजन पहुंचे और इसकी सूचना नगर थाना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही नगर थाना से पहुंचे पुलिस ने पॉकेटमार एवं जिनकी पाकिटमारी हुई थी उन्हें लेकर थाने आई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कथरुआ निवासी रंजीत कुमार अपना इलाज कराने डॉक्टर विकास के पास आए हुए थे और पंक्ति में खड़े हुए थे।

 

इसी दौरान उन्हें अचानक महसूस हुआ कि उनके पॉकेट में कोई हाथ डाल रहा है। अचानक उन्होंने उस व्यक्ति का हाथ पकड़ लिया जो उन्हीं के साथ पंक्ति में पीछे खड़ा था।  पकड़े गए युवक की पहचान बड़वा निवासी मोहम्मद शाहिद के रूप में की गई है। जिसके पास से कुल 5250 रुपए बरामद हुए हैं। फिलहाल पुलिस दोनों को लेकर नगर थाना में पूछताछ कर रही है। हालांकि पकड़ा गया युवक खुद को निर्दोष बता रहा है और कह रहा है कि वह खुद भी इलाज कराने आया हुआ था।


Find Us on Facebook

Trending News