बांका से लौटते समय सीएम ने खुद खेतों में पुआल जलते देख फौरन मुख्य सचिव को दिए निर्देश, कहा- हवाई सर्वेक्षण कर रखें नजर

बांका से लौटते समय सीएम ने खुद खेतों में पुआल जलते देख फौरन मुख्य सचिव को दिए निर्देश, कहा- हवाई सर्वेक्षण कर रखें नजर

पटना... बिहार में भी खेतों में पुआल जलाने वालों की खैर नहीं। पुआल जलाने वालों को पकड़ने के लिए जिलों में हैलिकॉप्टर से अधिकारी  निकलेंगे। नीतीश सरकार इसे लेकर काफी गंभीर हो गई है। नीतीश सरकार ने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि खेतों में पुआल न जलाया जाए। दरअसल तीन दिन पहले बांका से लौटते खुद सीएम नीतीश कुमार जब लौट रहे थे तब उन्होंने हवाई जहाज से कुछ खेतों में उन्होंने पुआल जलाते हुए देखा। उन्होंने कहा कि हमें बड़े पैमाने पर एसा नजारा देखने को मिला है। सीएम ने कहा कि खेतों में बड़े पैमाने पर पुआल को जलाकर खेतों में जमा रखा गया है। 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के मुख्य सचिव  को निर्देश दिया है कि वह हैलिकॉप्टर से जिलों में उड़ान भरें और इस बात की जांच करें कि प्रदेश  में कहां-कहां खेतों में पुआल जलाए जा रहे हैं। कृषि अवशेष को खेतों में जलाया जाना पर्यावरण के लिए बेहद खतरनाक है। मुख्मंत्री ने कहा कि हमने लगातार जागरूकता प्रोग्राम के जरिए किसानों को समझाने की कोशिश की है। इसके बाद भी कई इलाकों में इसकी अनदेखी की जा रही है।

किसान मान नहीं रहे हैं। जबकि इस बात का गंभीरता से लेने की जरूरत है। उन्हाेंने कहा कि इस बात को वे खुद देखें। इसके लिए राज्य सरकार हैलिकॉप्टर तीन चार दिन बुक करें ओर खुद बिहार के सभी जिलों का हवाई सर्वेक्षण करें। उन्होंने कहा कि पराली जलाने पर रोक लगाने के लिए आवश्य हो तो पर्यावरण और कृषि के जानकार लोगों की मदद ली जाए। 

Find Us on Facebook

Trending News