पूर्णिया SP से पहले मुजफ्फरपुर SSP के ठिकानों पर हुई थी छापेमारी, एसपी 'दयाशंकर' पटना के बिल्डर पर बरसा रहे थे 'दया'

पूर्णिया SP से पहले मुजफ्फरपुर SSP के ठिकानों पर हुई थी छापेमारी, एसपी 'दयाशंकर' पटना के बिल्डर पर बरसा रहे थे 'दया'

PATNA:  बिहार में आज एक SP के आठ ठिकानों पर विशेष निगरानी इकाई की छापेमारी हुई। इसके पहले 2018 में मुजफ्फरपुर के एसएसपी के ठिकानों पर एसवीयू ने रेड डाला था। तब वह पहली छापेमारी थी, जब किसी जिले के एसपी के आवास व अन्य ठिकानों पर एसवीयू ने रेड डाला था. मंगलवार को पूर्णिया के पुलिस अधीक्षक दयाशंकर के सरकारी आवास , दफ्तर के अलावे आठ ठिकानों पर एक साथ तलाशी ली गई है। 

पूर्णिया एसपी ने रियल इस्टेट में लगाया है पैसा

आय से अधिक संपत्ति मामले में पूर्णिया एसपी दयाशंकर के खिलाफ निगरानी कोर्ट में केस दर्ज किया गया है. निगरानी कोर्ट से सर्च वारंट मिलने के बाद छापेमारी की जा रही है. एसपी के रीडर नीरज कुमार सिंह , करीबी पुलिसकर्मी सावन कुमार ,  सदर थानाधक्ष संजय कुमार सिंह , श्रीनगर थानाध्यक्ष कुंदन कुमार के आवास और थाना पर एक साथ छापेमारी हुई। पूर्णिया के एसपी दयाशंकर पर आय से 65% अधिक संपत्ति रखने का आरोप है। पटना में एसपी के निजी आवास समेत 4 अन्य ठिकानों पर भी रेड की गई है। एसवीयू के दायर केस के अनुसार एसपी दय़ाशंकर पर आय से 71 लाख अधिक की संपत्ति है। यह भी जानाकारी मिली है कि एसपी ने अपनी बेनामी संपत्ति रियल इस्टेट में लगाया है। जांच एजेंसी बिल्डर संजीव कुमार की तलाश कर रही है जो फरार है.जांच एजेंसी बिल्डर के गोला स्थित आवास-दफ्तर की तलाशी ले रही है। 

2018 में मुजफ्फरपुर एसएसपी के ठिकानों पर हुई थी रेड

इसके पहले 16 अप्रैल 2018 को मुजफ्फरपुर के एसएसपी रहे विवेक कुमार के ठिकानों पर बिहार की स्पेशल विजिलेंस यूनिट छापेमारी की थी.विवेक कुमार के मुजफ्फरपुर आवास,दफ्तर और यूपी में ससुराल के दो ठिकानों पर छापेमारी की गई थी। एसयूवी ने प्रिवेंशन एंड करप्शन एक्ट के तहत मुजफ्फरपुर एसएसपी के खिलाफ के खिलाफ केस दर्ज किया था। तब किसी जिले के एसएसपी स्तर के किसी अधिकारी के यहां बिहार में रेड की पहली खबर थी. इसके 2 महीने पहले ही सीबीआई ने औरंगाबाद के डीएम कंवल तनुज के ठिकानों पर छापेमारी की थी. 

विवेक कुमार के ससुराल में छह लॉकर के मिले थे चाभी

मुजफ्फरपुर के एसएसपी रहे विवेक कुमार के उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर स्थित उनके ससुराल में भी छापेमारी की गई थी। वहां 6 लॉकर का पता चला था. सील छह में एक लॉकर में 25 लाख रुपये बरामद किये किए गये थे। तब के एसवीयू के महानिरीक्षक रत्न संजय ने इसकी जानकारी दी थी। उन्‍होंने बताया था कि विवेक के ससुराल मुजफ्फरनगर में स्थित विजया बैंक की शाखा में मौजूद तीसरे लॉकर से 25 लाख रुपये नकद बरामद किए गए हैं। उन्होंने बताया कि यह लॉकर संयुक्त रूप से विवेक कुमार के ससुर वेद प्रकाश कर्णवाल और सास उमा रानी द्वारा संयुक्त रूप से संचालित किया जा रहा था। बता दें, आय के ज्ञात स्रोत से तीन गुना संपत्ति मामले में बिहार सरकार ने एसवीयू के पटना थाना में भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत गत 15 अप्रैल 2018 को मामला दर्ज किया गया था. एसवीयू ने मुजफ्फरनगर स्थित विवेक कुमार के ससुराल से छह लॉकर की कुंजियां बरामद की थी, जिनमें से दो में कुल 2.15 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की थीं। इससे पहले एसयूवी की टीम ने एसएसपी के आधिकारिक निवास में बने चैम्बर से देसी कार्बाइन बरामद किया था।एसएसपी के मुजफ्फरपुर स्थित आवास के साथ ही यूपी के मुजफ्फरनगर में स्थित उनके ससुराल और सहारनपुर जिले के आवास पर भी छापेमारी की गई. छापेमारी के बाद सरकार ने आईपीएस अधिकारी विवेक कुमार को निलंबित कर दिया था। बाद में उनका निलंबन वापस ले लिया था। हालांकि आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने का केस अभी भी चल रहा है। 

Find Us on Facebook

Trending News