बिदुपुर थानाध्यक्ष पर महिला से दुर्व्यवहार और मारपीट का आरोप, मनमानी पर जनप्रतिनिधियों ने खोला मोर्चा

बिदुपुर थानाध्यक्ष पर महिला से दुर्व्यवहार और मारपीट का आरोप, मनमानी पर जनप्रतिनिधियों ने खोला मोर्चा

HAJIPUR : बिहार में अफसरशाही पर हमेशा से सवाल उठते रहे है जिसकी शिकायत अक्सर लोग करते है लेकिन सुशासन का दावा करने वाली सरकार इसको लेकर गंभीर नही है।शायद यही वजह है कि थाना स्तर से लेकर प्रखंड स्तर के पदाधिकारियों पर लोगो के साथ दुर्व्यवहार और मारपीट करने का आरोप लगता है।

ताजा मामला वैशाली के बिदुपुर से है जहाँ के थानेदार धनन्जय पांडेय पर महिलाओं को गाली गलौज और मारपीट जैसे अमानवीय हरकत करने का आरोप लगा है।जिसके विरोध में  प्रखण्ड मुखिया संघ और जनप्रतिनिधियों ने बैठक कर थानाध्यक्ष के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।जिसके तहत थानेदार पर कारवाई करते हुए निलंबन किये जाने की मांग पुलिस कप्तान से की गई है। कार्रवाई नही होने की सूरत में बुधवार से अनिश्चितकालीन प्रखण्ड मुख्यालय पर बैठने का निर्णय लिया गया है।

यह है पूरा मामला

बताया जा रहा है कि बीते 23 सितम्बर को नावानगर पंचायत के राजीव राय की पत्नी लालती देवी को सास बहू के विवाद को लेकर पंचायती के लिए थाने पर बुलाया गया था।महिला ने आरोप लगाया कि बहु के साथ थाना पर बात हो रही थी इसी दौरान थानाध्यक्ष ने महिला की कुर्सी पर लात मारकर गिरा दिया भद्दी भद्दी गाली देते हुए मारपीट किया।इतना ही नही वहाँ मौजूद परिवार की दूसरी महिला के साथ भी मारपीट की गई।

आरोप को बताया गलत

पीड़ित महिला और पंचायत के मुखिया ने शिकायत की पुष्टि के लिये थाने में लगी सीसीटीवी फुटेज निकालने की बात कही है।हालांकि थानाध्यक्ष ने फोन पर बताया कि महिला थाने की महिला पदाधिकारी के साथ गाली गलौज करने लगी जिसके बाद सभी को वापस भेज दिया गया।उन्होंने बताया कि ललिता देवी की बहू के बयान पर केस दर्ज किया गया है और प्रखंड क्षेत्र के जनप्रतिनिधि अपनी मनमानी करवाने के लिए महिला को ढाल बनाकर मामले को तूल दे रहे है और झूठा आरोप लगा रहे है।


Find Us on Facebook

Trending News