बिग बेक्रिंग: बिहार के पूर्व मंत्री व सांसद को भी नहीं मिला वक्त पर ऑक्सीजन, तड़प-तड़प कर हुई मौत

बिग बेक्रिंग: बिहार के पूर्व मंत्री व सांसद को भी नहीं मिला वक्त पर ऑक्सीजन, तड़प-तड़प कर हुई मौत

Desk: कोरोना की दूसरी लहर का कहर आम लोगों की कौन कहे, खास पर भी वज्रपात बन कर टूट रहा है। संसाधन संपन्न मंत्री व विधायक भी इसके शिकार बन रहे हैं। बीते दिनों बिहार के एमएलसी हरिनारायण चौधरी व पूर्व मंत्री मेवालाल चौधरी की मौत कोरोना से ही हो गयी थी। अब एक और बडी खबर सामने आ रही है, जिसमें कोरोना के कहर के कारण ही सूबे के तत्कालीन मंत्री व पूर्व सांसद को वक्त पर ऑक्सीजन नहीं मिलने के कारण तड़प-तड़प कर मौत हो गयी। 

दरअसल खबर झारखंड के पलामू की है, जहां से पूर्व सांसद व तत्कालीन बिहार में मंत्री रहे जोरावर राम की मौत भी ऑक्सीजन के अभाव में हो गयी। मिली जानकारी के अनुसार जोरावर राम को सोमवार की दोपहर सांस लेने में परेशानी होने के बाद मेदिनीनगर स्थित मेडिकल कॉलेज अस्पताल के उपरी तल में भर्ती कराया गया था। जांच में जोरावर राम कोरोना पॉजिटिव निकले। कर्मचारी उपरी से निचले तल्ले पर बिना ऑक्सीजन के पूर्व सांसद को लेकर आ रहे थे, इसी बीच उनकी मौत हो गयी। 

जानकारी के अनुसार पूर्व सांसद का ऑक्सीजन लेवल गिर कर 74 हो गया था। कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि होने के बाद डॉक्टर्स की सलाह पर जब उनको कोविड वार्ड में भर्ती करने की सलाह दी गयी तो अस्पताल के कर्मी बिना ऑक्सीजन के ही पूर्व सांसद को निचले तल्ले पर शिफ्ट करने लगे, इसी दौरान उनकी मृत्यु हो गयी। पूर्व सांसद के सहयोगियों के अनुसार अगर पूर्व सांसद को ऑक्सीजन लगा होता तो उनकी जान बच सकती थी। बता दें कि जोरावर राम एकीकृत बिहरा में 1977 में कारा व उत्पाद मंत्री रह चुके थे और 1989 में उन्होंने पलामू संसदीय क्षेत्र से जनता दल प्रत्याशी के रूप में जीत दर्ज की थी।


Find Us on Facebook

Trending News