गया-मुंगेर में शिक्षक-छात्रों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद हरकत में सरकार, अब होगा 'ये' काम...

गया-मुंगेर में शिक्षक-छात्रों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद हरकत में सरकार, अब होगा 'ये' काम...

Patna: बिहार सरकार ने 4 जनवरी से हाई स्कूल, प्लस टू और कॉलेजों को खोलने का आदेश जारी किया। इसी बीच सूबे के 2 जिलों से खबर आई है कि विद्यालय के छात्रों और शिक्षकों में कोरोना के लक्षण पाए गए हैं। इसके बाद उन शिक्षण संस्थानों में शिक्षण कार्य बंद किया गया है। अब इसके बाद शिक्षा विभाग ने शिक्षण कार्य में लगे शिक्षक, शिक्षकेतर कर्मचारी और छात्र-छात्राओं के कोरोना जांच को लेकर स्वास्थ विभाग के प्रधान सचिव को पत्र लिखा गया है।

शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने आज इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग को पत्र लिखकर कोरोना जांच कराने का आग्रह किया है। शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने अपने पत्र में उल्लेख किया है कि गया और मुंगेर के जिला शिक्षा पदाधिकारी ने पत्र लिखकर या सूचित किया है  कि उनके यहां 2 स्कूलों में  छात्रों और शिक्षकों में कोरोना का संक्रमण पाया गया है। ऐसी स्थिति में  आवश्यक है कि  हाई स्कूल प्लस टू  व कोचिंग  संस्थानों में रैंडम तरीके से  कोरोना की जांच कराई जाए।  इस संबंध में आप अपने  जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित करें।

 बता दें कि 4 जनवरी 2021 से  अपर  क्लास में शिक्षण कार्य शुरू हुआ है। इसी बीच गया और मुंगेर से  खबर आई है कि स्कूल के प्राचार्य और कई बच्चे कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इसके बाद शिक्षा विभाग ने एहतियातन ये कदम उठाया है।

Find Us on Facebook

Trending News