BIHAR CRIME: शराब मिलने की सूचना के बावजूद उत्पाद विभाग ने नहीं ली सुध, वरीय अधिकारियों ने की कार्रवाई

BIHAR CRIME: शराब मिलने की सूचना के बावजूद उत्पाद विभाग ने नहीं ली सुध, वरीय अधिकारियों ने की कार्रवाई

NAWADA: नवादा जिले के रजौली थाना क्षेत्र के पटना-रांची रोड के एनएच 31 समेकित जांच चौकी पर भारी मात्रा में शराब बरामद। पुलिस ने ट्रक बरामद कर ड्राइवर को किया गिरफ्तार। मिली जानकारी के अनुसार वरीय अधिकारी को गुप्त सूचना मिली थी कि एक ट्रक में शराब भरकर लाई जा रही है। जिसके बाद वरीय अधिकारी ने उत्पाद विभाग को इसकी जिम्मेदारी दी। उत्पाद विभाग ने जांच के दौरान ट्रक में भारी मात्रा में शराब के साथ एक चालक को गिरफ्तार किया। बताया जाता है कि ट्रक में 4600 बोतल शराब है। इस शराब को झारखंड के रामगढ़ से बिहार की राजधानी पहुंचाना था।

ट्रक में केबिन बनाकर भरी गई थी शराब की बोतलें

ट्रक को समेकित जांच चौकी पर रोका गया। जांच के क्रम में ट्रक के अंदर केबिन खोल कर जब सर्च किया तो उसके अंदर शराब की बोतले दिखीं। शराब दिखते ही ट्रक में बैठे एक युवक को तुरंत गिरफ्तार किया गया। शराब निकाली गई तो झारखंड निर्मित 184 कार्टन शराब निकली। गिरफ्तार युवक ने बताया कि वह वैशाली जिले के राघोपुर थाना क्षेत्र के राघोपुर पुरबी गांव का मुकेश कुमार है। मुकेश ने बताया कि झारखंड के रामगढ़ से शराब लोड की गई थी। इसे पटना के मोजीपुर में पहुंचाना था। 

वरीय अधिकारी की सूचना पर जागा उत्पाद विभाग

सूत्र बताते हैं कि शराब की सूचना उत्पाद विभाग को सूचना दी जाती है, लेकिन वह इसमें कोई रुचि नहीं दिखाते। जिसके बाद सूत्र इसकी जानकारी जिले के वरीय अधिकारी को देते हैं। वरीय अधिकारी के आदेश पर ही शराब कि बड़ी खेप को बरामद किया जा रहा है। उत्पाद विभाग से लोगों की भरोसा उठ गया है। जिले के वरीय अधिकारी शराब के मामले को लेकर पैनी नजर रखे हैं और गुप्त सूचना मिलने पर तुरंत कार्रवाई भी की जा रही है। जिससे आम जनता में भी काफी खुशी है। आम जनता भी वरीय अधिकारी की सराहना कर रहे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News