BIHAR CRIME: सालभर में केवल 10 दिन ही बिहार पुलिस में दी सेवा, 355 दिन की लंबी छुट्टी से लौटने पर ऐसे पकड़ाया फर्जी सिपाही

BIHAR CRIME: सालभर में केवल 10 दिन ही बिहार पुलिस में दी सेवा, 355 दिन की लंबी छुट्टी से लौटने पर ऐसे पकड़ाया फर्जी सिपाही

SIWAN: बिहार में फर्जीवाड़ा की खेल जोरों पर चल रहा हैं। कभी शिक्षा विभाग में तो कभी पुलिस विभाग में फर्जीवाड़ा देखने के लिए मिल ही जाता हैं। ऐसा ही एक खुलासा सीवान पुलिस के द्वारा किया गया है।

दरसअल सीवान पुलिस लाइन के डीएसपी संजीव कांत के नेतृत्व में आज एक फर्जी सिपाही को गिरफ्तार किया गया है। उसकी पहचान भागलपुर के लोदीपुर थाना क्षेत्र के खुटाहा गांव निवासी गुलाब चंद्र यादव के पुत्र सुबोध कुमार के रूप में की गई है। वह पिछले महीने अगस्त में ही ज्वाइनिंग करने पहुंचा था। किसी ने उसके बारे में सूचना दे दी थी जिसके बाद से अंदर ही अंदर इसकी जांच की जा रही थी। जांच और पुख्ता सबूत होने के बाद मंगलवार को गिरफ्तार किया गया।

बताया जाता है कि सुबोध कुमार ने अपनी जगह पर किसी और व्यक्ति को बैठाकर परीक्षा दिलवाई थी। एग्जाम दिलवाने के बाद छपरा में उस फर्जी व्यक्ति की ट्रेनिंग भी हो गई थी। उसके बाद 2020 में उसने सिवान पुलिस लाइन में ज्वाइन भी कर लिया। ज्वाइनिंग के 10 दिन के बाद वह छुट्टी पर चला गया। करीब एक साल के बाद अब पहले वाले व्यक्ति की जगह सुबोध ज्वाइन करने के लिए पिछले महीने अगस्त में सीवान पुलिस लाइन आया था।

उसके ज्वाइन करने के बाद किसी ने इसकी सूचना सीवान के एसपी अभिनव कुमार को दे दी। बताया कि सुबोध कुमार ने गलत तरीके से पुलिस में अपना योगदान दिया है। जिसके बाद पुलिस लाइन डीएसपी संजीव कांत के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया और इसकी जांच शुरू की गई। संजीव कांत ने आरोपी के ज्वाइनिंग के वक्त दिए डॉक्यूमेंट और सिपाही भर्ती के लिए जरूरी शारीरिक दक्षता की माप दंड की जांच की। इस दौरान शारिरिक दक्षता में कमी और आरोपी सुबोध कुमार के चेहरे, हस्ताक्षर और दिए कागजात में भी अंतर पाया गया।

शुरुआत में जिस व्यक्ति ने ज्वाइन किया था उसने दस दिन तक काम किया और फिर अपने पिता की तबीयत खराब होने का बहाना बनाकर छुट्टी पर चला गया। एक साल तक गायब रहा। इसके बाद सुबोध पिछले महीने अगस्त में सीवान पुलिस लाइन में सेवा देने के लिए पहुंच गया। सीवान एसपी अभिनव कुमार ने ने बताया कि जो व्यक्ति सुबोध की जगह पर एग्जाम दिया था उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जाएगी। जल्द ही उसका खुलासा किया जाएगा टीम गठित कर इसकी प्रक्रिया शुरु कर दिया गया हैं।

Find Us on Facebook

Trending News