बालू माफियाओं ने पार कर दी हद, कार्रवाई करने पहुंचे खनन पदाधिकारी पर किया जानलेवा हमला

बालू माफियाओं ने पार कर दी हद, कार्रवाई करने पहुंचे खनन पदाधिकारी पर किया जानलेवा हमला

KAIMUR : जिले में अवैल बालू के धंधे में लिप्त माफियाओं का राज किस तरह कायम है, इसे इस बात से समझा जा सकता है कि उन्होंने जिले के खनन पदाधिकारी की भी हत्या करने की कोशिश कर डाली। बताया गया कि  कैमूर जिले के NH 2 पर जिला खनन पदाधिकारी सत्येंद्र प्रसाद सिंह पर बालू माफियाओं ने लाठी डंडा लेकर हमला बोल दिया। खनन पदाधिकारी किसी तरह से वहां से भागकर जान बचाये। मोहनिया थाने को सूचित करने पर मौके पर पहुंची मोहनिया पुलिस के सहयोग से दो लोगों को धर दबोचा गया।

 जानकारी देते हुए जिला खनन पदाधिकारी सत्येंद्र प्रताप सिंह बताते हैं बिना चालान के बालू लदे ओवरलोड ट्रकों के गुजरने की सूचना मिलने पर रोड पर बालू लदे वाहनों को पकड़ रहे थे, तभी होटल संचालक आया और बोला कि आप मेरे होटल के पास गाड़ी क्यों पकड़ रहे हैं ,तो मेरे द्वारा बताया गया कि मैं सड़क पर गाड़ी पकड़ रहा हूं आपके होटल के पास नहीं। इतने पर वह 7 - 8 की संख्या में डंडा और तलवार लेकर के आए और मेरे ऊपर हमला कर दिया। किसी तरह से वहां से भाग कर जान बचाये। फिर अपने वरीय पदाधिकारी को और मोहनिया थाना को फोन से सूचित किए। मौके पर पहुंची मोहनिया पुलिस के सहयोग से दो लोगों को पकड़ लिया गया और लोग फरार हो गए। कुल 3 नामजद और अज्ञात के खिलाफ थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। 

चरम पर बालू का अवैध कारोबार

खनन पदाधिकारी पर हुआ हमला यह बताता है कि यह कि जिले में बालू माफियाओं के बीच कानून का डर किस तरह से खत्म हो गया है। जिसमें एनएच किनारे अपना ढाबा और होटल चलानेवाले लोगों की की बड़ी भूमिका होती है कि किस तरह बालू लदी ट्रकों को बिहार की सीमा पार कराई जाए। खनन पदाधिकारी पर हुआ हमला उसी का परिणाम है। 


Find Us on Facebook

Trending News