लोकसभा के रण में बिहार के 2 रिटायर्ड आईपीएस अधिकारी ठोक रहे ताल

लोकसभा के रण में बिहार के 2 रिटायर्ड आईपीएस अधिकारी ठोक रहे ताल

पटना : बिहार के 2 आईपीएस अधिकारी रिटायरमेंट के बाद चुनावी ताल ठोक रहे हैं ।पहले अधिकारी हैं सुधीर कुमार जो DIG से रिटायर हुए हैं और शहाबुद्दीन के गढ़ सिवान से लोकसभा चुनाव का ताल ठोक रहे हैं ।तो वहीं दूसरी ओर डीजी से रिटायर्ड अशोक कुमार गुप्ता पटना साहिब संसदीय क्षेत्र से मैदान में उतरने वाले हैं.

दोनों आईपीएस अधिकारी महीनों से जनसंपर्क में जुटे हैं. शहाबुद्दीन के गढ़ सिवान के रण में उतरे आईपीएस अधिकारी सुधीर कुमार सिंह पिछले 5 महीनों से सिवान में ही डेरा जमाए हुए हैं. वे लगातार जनसंपर्क अभियान जारी रखे हुए हैं. उनका दावा है कि वहां के लोगों का अपार समर्थन उन्हें मिल रहा है. वे कहते हैं कि इस चुनाव में किसी दल से टिकट मिले या ना मिले इसकी चिंता नहीं, निर्दलीय ही वे चुनाव लड़ेंगे और जीतेंगे। उनका दावा है कि बतौर पुलिस अधिकारी सिवान में जो उन्होंने काम किया है और अमन चैन बहाली में उन्होंने जो योगदान दिया है उसको लोग याद कर रहे हैं ।उसी का परिणाम है कि सभी जाति धर्म के लोगों का वोट उन्हें मिलेगा ।उन्होंने  सिवान को शहाबुद्दीन के आतंक राज से मुक्ति और कानून व्यवस्था बहाली को लेकर काफी काम किया हैउनका दावा है कि एक राजनेता के आतंक से को रोकने में काफी अहम भूमिका निभाई है। लिहाजा लोग उन्हें पसंद कर रहे हैं।  आईपीएस अधिकारी सुधीर कुमार का कहना है कि वे चुनाव जीतेंगे भी तो एनडीए गठबंधन को ही समर्थन करेंगे।

वहीं दूसरी ओर पुलिस भवन निर्माण निगम के एमडी से रिटायर हुए डीजी रैंक के अधिकारी अशोक कुमार गुप्ता भी कई महीनों से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं वे पटना साहिब क्षेत्र से बतौर निर्दलीय किस्मत आजमा रहे हैं ।वे भी लगातार जनसंपर्क में जुटे हैं।

वैसे पहले भी कई आईपीएस अधिकारी लोकसभा चुनाव में किस्मत आजमा चुके हैं. उनमें से पूर्व डीजीपी डीपी ओझा, आशीष रंजन सिन्हा सहित कई ऐसे अधिकारी हैं जिन्होंने रिटायर होने के बाद खाकी को त्याग कर खादी पहन राजनीति शुरू की ।


Find Us on Facebook

Trending News