बिहार के बेरोजगार दंत चिकित्सकों को अब नेता प्रतिपक्ष से मदद की आस, तेजस्वी यादव से मिलने पहुंचे राबड़ी आवास

बिहार के बेरोजगार दंत चिकित्सकों को अब नेता प्रतिपक्ष से मदद की आस,  तेजस्वी यादव से मिलने पहुंचे राबड़ी आवास

Patna : बेरोजगारी की मार झेल रहे बिहार के दंत चिकित्सकों को अब नेता प्रतिपक्ष से मदद की उम्मीद है। प्रदेश में दंत चिकित्सकों के खाली पड़े सीटों को भरने के लिए नेता प्रतिपक्ष से मदद की गुहार लगाई गई है। आज बिहार के दंत चिकित्सक नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव से मिलने राबड़ी आवास पहुंचे। 

राबड़ी आवास पहुंचे  दंत चिकित्सकों का कहना था कि बिहार में दंत चिकित्सक की कमी है। हमारी मांग है कि बिहार में दंत चिकित्सक की सीटों को भरा जाए। 

दंत चिकित्सकों ने कहा कि कोरोना काल में हमारी उपयोगिता बढ़ जाती है क्योंकि कोरोना मुख्य तौर पर मुंह नाक और गले में संक्रमण से फैलता है। इस उपयोगिता को देखते हुए दांत के डॉक्टरों की सेवा ली जा रही है पर हमारे बिहार में दंत चिकित्सक उपेक्षित और अपमानित महसूस कर रहा है। 

डेंटल डॉक्टरों का कहना था कि बिहार में लगभग 8000 रजिस्टर डेंटल सर्जन है। बिहार में साल 1982 में दंत चिकित्सक की नियुक्ति हुई थी। साल 2013 में बिहार में दंत चिकित्सक के मात्र 83 सृजित पद थे, लेकिन नवंबर 2013 में 617 पदों का और सृजन किया गया। फिलहाल बिहार की 12 करोड़ की आबादी पर बस 700 डेंटल सर्जन हैं।

बिहार में अभी 3200 सीट खाली है। हर साल से बिहार से 400 से ऊपर दंत चिकित्सक पढ़ाई पूरी करते हैं और बेरोजगार हो जाते हैं। आज हम ल़ग तेजस्वी यादव से मिलने आए हैं। उम्मीद है कि तेजस्वी यादव इस मुद्दे को पुरजोर तरीक़े से उठाएंगे।

पटना से देवांशु प्रभात की रिपोर्ट



Find Us on Facebook

Trending News