BIHAR NEWS: शहीद अश्विनी कुमार के घर पहुंचे डिप्टी सीएम और मंत्री नीरज बबलू, कहा- राज्य सरकार उठाएगी बच्चों की पढ़ाई का जिम्मा

BIHAR NEWS: शहीद अश्विनी कुमार के घर पहुंचे डिप्टी सीएम और मंत्री नीरज बबलू, कहा- राज्य सरकार उठाएगी बच्चों की पढ़ाई का जिम्मा

PURNEA: पश्चिम बंगाल में छापेमारी करने गए किशनगंज के थानाध्यक्ष की हत्या के बाद से लगातार ही राजनेता शहीद अश्विनी कुमार के घर पहुंच रहे हैं. पश्चिम बंगाल में थानाध्यक्ष को भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला था. इस वीभत्स घटना की चहुंओर निंदा की गई. अपने बेटे का पार्थिव शरीर देखने के बाद अश्विनी कुमार की मां भी यह सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाई और उन्होनें भी प्राण त्याग दिए. मां-बेटे की अर्थी एकसाथ उठते देखकर हर किसी की आंखे नम हो गई थी.

स्थानीय विधायक और विधान पार्षद शहीद की अंतिम यात्रा में शामिल हुए थे. अब मंगलवार को उप मुख्यमंत्री तारकेश्वर प्रसाद तथा बिहार सरकार के मंत्री नीरज बबलू भी शोकाकुल परिवार से मिलने पहुंचे. इससे पहले जाप संरक्ष पप्पू यादव ने भी पीड़ित परिवार से मुलाकात की उन्हें 50 हज़ार की सहायता राशि दी थी. साथ ही पप्पू यादव ने इस मामले की सीबीआई जांच की मांग उठाई है.

जानकीनगर में पीड़ित परिवार से मिलने उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद पहुंचे और परिजनों से कहा कि विपत्ति की इस घड़ी में राज्य सरकार पूरी तरह उनके साथ है. उन्होंने कहा कि परिजनों ने सीबीआई जांच के लिए लिखित आवेदन दिया है. वे पटना जाकर इस मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बात करेंगे. सरकार के स्तर पर विचार कर केंद्र सरकार से इस बाबत आग्रह किया जाएगा. घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि मामले को लेकर सरकार पूरी तरह गंभीर है. राज्य सरकार ने शहीद अश्विनी कुमार के बच्चों के पढ़ाई-लिखाई का जिम्मा लेने का निर्णय लिया है. इतना ही नहीं आश्रित को अनुकम्पा पर नौकरी के अलावा शीघ्र ही 10 लाख रुपये अनुग्रह राशि भी दी जाएगी. साथ ही शहीद अश्विनी का जो भी नौकरी मद में बकाया राशि है, उसे आज ही रिलीज किया जा रहा है.

मौके पर मौजूद मंत्री नीरज कुमार बब्लू ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट और एफआईआर में गड़बड़ियां हैं, जिससे शक पैदा होता है. परिवार चाहता है कि सीबीआई जांच हो, हम परिवार के साथ हैं. अगर सहकर्मी दोषी हैं तो मामले की जांच करवाकर उन सबों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी. नीरज कुमार बब्लू ने कहा कि, शहीद का परिवार जिस भी सरकारी सुविधा का हकदार है, उन्हें उपलब्ध करायी जाएगी, उन्हें कहीं जाने की जरूरत नहीं है. मंत्री नीरज बब्लू ने कहा कि घटना से पूरे राज्यवासी मर्माहत हैं, प्रधानमंत्री जी भी अपनी चिंता का इजहार कर चुके हैं.



Find Us on Facebook

Trending News