नवादा कांड पर पूर्व सासंद आरके सिन्हा ने भी की उच्चस्तरीय जांच की मांग, कहा - जो भी दोषी हों उनके खिलाफ हो सख्त कार्रवाई

नवादा कांड पर पूर्व सासंद आरके सिन्हा ने भी की उच्चस्तरीय जांच की मांग, कहा - जो भी दोषी हों उनके खिलाफ हो सख्त कार्रवाई

PATNA :  होली के दौरान नवादा जिले में हुई मौतों को लेकर मौजूदा नीतीश सरकार पर लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं कि उनके अधिकारी मामले की लीपापोती में जुटे हैं। वहीं दूसरी तरफ जिन परिवारों में मौत की घटनाएं हुई हैं, वहां शोक की लहर है। इन घटनाओं को लेकर जिस तरह की बातें सामने आई है, न सिर्फ नवादा, बल्कि भागलपुर में पुलिस की पिटाई से मारे सरकारी कर्मी की मौत को लेकर जिस तरह से सवाल उठाए जा रहे हैं, उसके बाद सीएम नीतीश कुमार पूरी तरह से दबाव में हैं। अब इन पूरी घटनाओं को लेकर राज्य सभा के पूर्व सांसद और भाजपा के संस्थापक सदस्यों में शामिल आरके सिन्हा ने सरकार से उच्चस्तरीय जांच की मांग की है। 

उन्होंने कहा है कि एक तरफ जहां बिहार में जहरीली शराब पीने के कारण कई लोगों की मौतें हो गयी है और प्रभावित गरीब परिवारों में शोक की लहर है। दूसरी ओर कई प्रकार के आरोप-प्रत्यारोप भी लग रहे हैं। कुछ लोगों ने यह आरोप लगाया है कि स्थानीय पुलिस अधिकारी ही जबर्दस्ती मृतक परिवारों से यह लिखवा कर लें रहे हैं कि उनके परिजनों की मृत्यु जहरीली शराब पीने के कारण नहीं हुई है। बल्कि, हार्ट अटैक के कारण हुई है। कुछ विधायकों ने तो यहां तक कह दिया कि शायद ही कोई पुलिस अधिकारी हैं, जो स्वयं शराब नहीं पीता हो। ऐसे में इन विवादों में गये बिना मैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी से यह अनुरोध करूंगा  कि वे एक उच्चस्तरीय निष्पक्ष जांच करायें और जो भी दोषी हों उनके खिलाफ सख्त से सख्त कारवाई करें।

बता दें कि एक दिन पहले ही भागलपुर के गोपालपुर से विधायक गोपाल मंडल ने यह आरोप लगाया था कि पुलिस शराब पीकर काम करती है और ज्यादातर लोग नशे में डूबे रहते हैं। वहीं नवादा कांड में स्थानीय प्रशासन पर मामले को दबाने के आरोप लगे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News