BIHAR NEWS: कोविड इलाज को लेकर पहल, सांसद रविशंकर प्रसाद ने की समीक्षा, दोनों डिप्टी सीएम भी रहे उपस्थित

BIHAR NEWS: कोविड इलाज को लेकर पहल, सांसद रविशंकर प्रसाद ने की समीक्षा, दोनों डिप्टी सीएम भी रहे उपस्थित

पटना: पटना साहिब के सांसद सह केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शनिवार को पटना के सभी बड़े अस्पताल एम्स (पटना), इन्दिरा गांधी आर्युविज्ञान संस्थान, पीएमसीएच और एनएमसीएच में कोविड के इलाज और तैयारियों बारे में समीक्षा की। समीक्षा में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय ने विशेष पहल की थी और प्रदेश के दोनों उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद एवं रेणु देवी थी। इसके अलावा पीएमसीएच और एनएमसीएच के अधीक्षक एवं प्राचार्य तथा एम्स, पटना और इन्दिरा गांधी आर्युविज्ञान संस्थान के निदेशक भी अपनी टीम के साथ उपस्थित थे। 

मरीजों की संख्या में आयी थोडी कमी

चारों अस्पताल द्वारा यह बताया गया कि कोरोना के मरीजों की संख्या के दबाव में थोड़ी कमी आयी है और वे सभी अपनी टीम के साथ इलाज में लगे हुए है। प्रसाद ने विशेष रूप से आईसीयू बेड, ऑक्सीजन, जीवनरक्षक दवाएं, वेन्टीलेटर और रेमेडेसीवीर दवा के बारे में जानकारी प्राप्त की है। उन्होंने इस बात पर संतोष प्रकट किया कि एम्स पटना में आईसीयू की बीस और आईजीआईएमएस में पचास बेड बढ़ाए जा रहे है। आईजीआईएमएस के निदेशक ने बताया की उनकी पहल से 100 बेड को आपूर्ति करने वाले ऑक्सजीन संयंत्र के लिए काम को शुरू करने हेतु संबधित संस्थान ने अस्पताल से सम्पर्क कर लिया है। 

ब्लैक फंगस को लेकर तैयारी

एम्स के निदेशक को प्रसाद ने विशेष रूप से आग्रह किया कि ब्लैक फंगस रोग के इलाज की पूरी तैयारी की जाए और इस संबंध में भारत सरकार से कुछ भी सहयोग की अपेक्षा होगी तो वे हमेशा मदद करेंगे। समीक्षा में प्रसाद और मंगल पाण्डेय, दोनों ने आगे बच्चों में किसी संक्रमण की आशंका को देखते हुए अस्पताल तैयारी रखें, इसका आग्रह विशेष रूप से किया। साथ ही मरीजों के परिजनों के भोजन और सूचना आदि की भी चिन्ता की जाए। दोनों उपमुख्यमंत्री ने इन चारों अस्पताल के द्वारा चुनौती भरे समय में किए जा रहे काम की सराहना की और जहा कमी है उसे जल्दी ठीक करने का आग्रह किया। स्वास्थ्य मंत्री ने चारों अस्पताल को यह आशवस्त किया कि दवा की कोई कमी नहीं है और अगर उनको कोई जीवनरक्षक दवा चाहिए तो वे तुरन्त उनकी व्यवस्था करेंगे।

Find Us on Facebook

Trending News