BIHAR NEWS: सकरी नदी में जुगाड़ नाव पलटी, डूबते लोगों की मुश्किल से बची जान, जाहिर हो गई प्रशासनिक लापरवाही

BIHAR NEWS: सकरी नदी में जुगाड़ नाव पलटी, डूबते लोगों की मुश्किल से बची जान, जाहिर हो गई प्रशासनिक लापरवाही

NAWADA: सकरी नदी के कुंज-गोसाई बिगहा घाट में मंगलवार को जुगाड़ नाव पलट गई। जिसमें आधा दर्जन यात्रियों के साथ साथ तीन बाइक भी डूब गयी। नाव में दो शिक्षिका भी शामिल थीं। हालांकि समय रहते डूब रहे लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया था। मगर इस हादसे में लोगों का सामान बह गया।

लोगों में चर्चा इस बात की है कि पिछले साल ही प्रशासन के आदेश पर जुगाड़ नाव का परिचलन बंद कर दिया गया था। लेकिन फिर भी जहां पर नाव चालू कर दिया गया था। गांव स्थानीय लोगों के द्वारा इस पार से उस पार जो जुगाड़ नाव व्यवस्था कर चलाया जाता है। नाव से यात्रा करने वालों से प्रति व्यक्ति किराया लिया जाता है। लेकिन सबसे बड़ी प्रशासन की लापरवाही के कारण इस तरह का घटना घटी है प्रशासन के द्वारा नाव चलाने वाले पर किसी भी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं की जाती है।

जुगाड़ नाव गोसाईविगहा घाट से कुंज घाट के लिए खुली। तभी बीच नदी में निर्माणाधीन पुल के पाया नम्बर इक्कीस से टकरा गई। जिससे नाव अनियंत्रित हो पलट गई। जिसमें उस पर सवार सभी लोग नदी के तेज धारा में बह गए। स्थानीय लोगों के प्रयास से मध्य विद्यालय ओहारी की शिक्षिका कल्पना कुमारी, नवसृजित प्राथमिक विद्यालय दिरमोबारा के प्रधान शिक्षिका मालती भूषण सहित सभी लोगों को बचाया गया। परन्तु दोनों शिक्षिका का मोबाईल और पर्स नदी के तेज धारा में बह गया।

जबकि समाचार लिखे जाने तक रोह थाना क्षेत्र के भट्टा निवासी सुभाष कुमार की पल्सर बाइक नदी को नदी से निकाला जा सका है। जबकि नवादा के सुनील चौधरी व उनके मित्र कीबाईक अभी भी लापता है। जानकारी के लिए बता दें कि पिछले साल ही इस नदी में चलने वाला जुगाड़ नाव का परिचालन बंद कर दिया गया था। इस वर्ष किसके आदेश पर परिचालन शुरू हुआ यह बताने के लिए कोई भी तैयार नहीं है।

Find Us on Facebook

Trending News