बिहार में कोरोना वैक्सीन और एंटीजन किट होने लगी किल्लत, बिना टीका लगाए लौट रहे लोग

बिहार में कोरोना वैक्सीन और एंटीजन किट होने लगी किल्लत, बिना टीका लगाए लौट रहे लोग

PATNA : (BIHAR CORONA UPDATE) बिहार में जैसे जैसे कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है, एक दूसरी समस्या भी सामने आने लगी है। कोरोना के खतरे को देखते हुए लोग बड़ी संख्या में जांच करवाने और टीकाकरण के लिए अस्पतालों में पहुंच रहे हैं। जिसका नतीजा यह हो रहा है कि अब कोरोना टेस्ट के लिए प्रयोग होनेवाले एंटीजेन किट और वैक्सीन की कमी होने लगी है। टीका लगवाने अस्पताल गए लोग वैक्सीन नहीं होने के कारण मायूस होकर लौट गए।

निजी अस्पताल कर रहे वैक्सीन के नाम पर वसूली

यह बात भी सामने आई है कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद प्राइवेट अस्पतालों में मनमानी भी शुरू हो गई है। वैक्सीन लगवाने आ रहे लोगों से 200 से 250 सौ रुपए की मांग की जा रही है। कदमकुआं के जगतनारायण रोड स्थित एक बड़े अस्पताल में जब लोगों ने विरोध जताते हुए कहा कि टीका नि:शुल्क लगाना है तो जवाब मिला कि डाटा ऑपरेटर के लिए एक एजेंसी को भुगतान करना पड़ता है। ऐसे में कई लोग बिना टीका लिए ही वहां से लौटाए जा रहे हैं। वहीं जब इसके बारे में  सिविल सर्जन डॉ. विभा सिंह से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि निजी अस्पतालों में भी कोरोना का टीका नि:शुल्क लगाना है। अस्पताल को सरकार द्वारा इसके बदले में 50 रुपये का भुगतान किये जाने का प्रावधान किया गया है।

एंटीजन किट हो गए खत्म
 सरकार द्वारा हर दिन एक लाख जांच के आदेश दिए गए हैं, लेकिन कई जगहों पर जांच के लिए प्रयोग होनेवाले एंटीजन किट की किल्लत हो गई है। मंगलवार को होटल पाटलिपुत्र अशोका में बने जांच केंद्र में आए लोगों की एंटीजन किट से जांच नहीं हो सकी। कई लोग दो-तीन घंटे इंतजार के बाद वहां से निराश लौटे। वहीं न्यू गार्डिनर रोड अस्पताल में अ भी एंटीजन किट समाप्त होने के कारण दिन के 11 बजे से दोपहर 12:30 बजे तक एंटीजन किट जांच नहीं हो सकी। बाद में वहां तैनात स्वास्थ्यकर्मी स्वास्थ्य समिति के कार्यालय से किट लेकर पहुंचे तब जाकर एंटीजन किट से जांच शुरू हो सकी।


Find Us on Facebook

Trending News