BIHAR NEWS: साल के 6 महीने पानी से लबालब रहता है राजधानी पटना का यह स्कूल, बच्चे पढ़ तो रहे, मगर किस कीमत पर....

BIHAR NEWS: साल के 6 महीने पानी से लबालब रहता है राजधानी पटना का यह स्कूल, बच्चे पढ़ तो रहे, मगर किस कीमत पर....

PATNA CITY: देश को आज़ादी मिले कई दशक बीत गए, सब कुछ समय के साथ बदलता गया, पर नही बदला तो शिक्षा का मंदिर। जहां देश के नौनिहाल शिक्षा ग्रहण करने के लिए आते है। बच्चें देश के भविष्य होते है। देश की दशा और दिशा तय करने में इनकी अहम भूमिका होती है। लेकिन वहीं बच्चे आज भी जलजमाव के बीचों बीच पढ़ने को मजबूर है।

शिक्षा की यह बदहाल तस्वीर कहीं और कि नहीं, बल्कि राजधानी पटना की है। एक तस्वीर हम आपको दिखा रहे हैं जिसे देखकर शायद बिहार के नौकरशाहों को शायद शर्म आए या फिर सत्त्ता की मलाई खा रहे उन नायकों को, जो आज बिहार को चला रहे हैं। देखिए यह है प्राथमिक स्कूल की हालत, जो कि पानी में डूबा हुआ है। हम बात कर रहे है मुख्यमंत्री आवास से महज 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थित सबलपुर के प्राथमिक बिधालय फतेहजंगपुर की, जो साल भर में 6 महीना पानी से लबालब भरा रहता है। स्कूल में सिर्फ दो कमरे हैं, जिसमें करीब 300 बच्चे शिक्षा ग्रहण करते है। जब स्कूल में पानी भरा रहता है तब यहां पास के सामुदायिक भवन में सारे बच्चों को एक छोटे से कमरे में पढ़ाया जाता है। हालांकि वह सामुदायिक भवन भी जलजमाव से घिरा हुआ है। ऐसे में आप समझ सकते हैं कि बच्चे कितनी तकलीफ झेलकर शिक्षा ग्रहण करते हैं। सुशासन की सरकार लगातार हर मंच से यह ढोल पीटती है कि बिहार में विकास हो रहा है, लेकिन उसी विकास की पोल यह स्कूल खोल रहा है। 

हम ऐसा नहीं कह रहे हैं कि बिहार में विकास नहीं हो रहा है। विकास जरूर हो रहा है। लेकिन उसी विकास के बीच एक तस्वीर बिहार को शर्मसार कर देती है। आजादी के कई दशक बीत गए पर ना बदला तो शिक्षा का मंदिर।  स्कूल के शिक्षक प्रमोद कुमार बताते है कि साल में करीब 6 महीने इस स्कूल की स्थित ऐसी ही रहती है। बारिश के बाद हर साल जलजमाव रहता है, इसे सूखने में भी काफी समय लग जाता है। कई बार शिकायत करने के बाबजूद भी स्थिति जस की तस बनी हुई है। विधानसभा के मौजूदा सत्र में इस स्कूल का मुद्दा फतुहा बिधायक रामानंद यादव उठा चुके हैं, जिसके बाद अधिकारियों की टीम स्कूल का निरीक्षण करने भी पहुंची थी, लेकिन अभी तक स्कूल के बनने को लेकर तस्वीर साफ नहीं हो पाई है।

Find Us on Facebook

Trending News