विधानपरिषद में अपनी खिंचाई के बाद बोले शिक्षा मंत्री-कुछ तो मजबूरियां रही होंगी वरना यूं हीं कोई बेवफा नहीं होता...

विधानपरिषद में अपनी खिंचाई के बाद बोले शिक्षा मंत्री-कुछ तो मजबूरियां रही होंगी वरना यूं हीं कोई बेवफा नहीं होता...

पटनाः विधानपरिषद में आज एक बार फिर से शिक्षा मंत्री कृष्णंदन प्रसाद वर्मा की जमकर खिचाई हुई।विपक्ष के अलावे सत्तापक्ष के सदस्यों ने शिक्षा मंत्री पर सवालों की बौछार कर दी। सवाल की बौछार से आहत शिक्षा मंत्री ने कहा-कुछ तो मजबूरियां रहीं होंगी वरना यूं हीं कोई बेवफा नहीं होता।

दरअसल विधानपरिषद सदस्य संजीव श्याम सिंह,दिलीप चौधरी,नवल किशोर राय,केदार पांडेय ने वित्तरहित शिक्षकों का मुद्दा उठाया।सदस्यों ने कहा कि आखिर सरकार वित्तरहित शिक्षकों के अनुदान मद की राशि कब रिलीज करेगी..आखिर उनका क्या कसूर है और कब तक उन्हें इंतजार करना पड़ेगा।

विधानपार्षद केदार पांडेय ने कहा कि अनुदान की राशि कब जारी होगी मंत्री यह बता दीजिए..केदार पांडेय के सवाल उठाने के बाद दिलीप चौधरी ने भी शिक्षा मंत्री से स्पष्ट जवाब देने की मांग की।

जब एक साथ कई सदस्य शिक्षकों की समस्या को लेकर उठ खड़े हिए ।.इसके बाद अपने आप को घिरते देख शिक्षा मंत्री कृष्णंदन प्रसाद वर्मा ने शायरी से मुंह बंद करने की चाल चली ..कहा-कुछ तो मजबूरियां रही होगी वरना यूं हीं कोई बेवफा नहीं होता...शेर पढ़ने के बाद सदन के सभापति समेत सभी सदस्य वाह-वाह करने लगे .इस तरह से मंत्री जी ने सदस्यों की खिंचाई से अपने आप को बाहर निकाला।

Find Us on Facebook

Trending News