मोकामा उप चुनाव को लेकर बीजेपी ने नीतीश कुमार पर लगाया आरोप - उनकी जिद पर पहली बार एक अपराधी को दिया गया था टिकट

मोकामा उप चुनाव को लेकर बीजेपी ने नीतीश कुमार पर लगाया आरोप - उनकी जिद पर पहली बार एक अपराधी को दिया गया था टिकट

PATNA : मोकामा उप चुनाव की घोषणा हो चुकी है। आगामी तीन नवंबर को यहां वोटिंग होना है, जिसमें सीधा मुकाबला बीजेपी और महागठबंधन के बीच है। ऐसे में दोनों तरफ से आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरु हो चुका है। जहां महागठबंधन की तरफ से यह कहा गया है कि बीजेपी के पास कोई योग्य उम्मीदवार नहीं है, जो चुनाव में खड़ा भी हो सके। वहीं दूसरी तरफ भाजपा ने मोकामा उप चुनाव को लेकर सीधे सीधे सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोल दिया है। 

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा. संजय जायसवाल ने कहा कि आज मोकामा में अपराधिक छवि वाले नेताओं का बोलबाला है। यहां ऐसे लोग जीत रहे हैं, जिनका पूरा बैकग्राउंड अपराधिक रहा है। इन सबके लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जिम्मेदार हैं। डा. जायसवाल ने आरोप लगाया कि मोकामा में हमेशा से बाहुबलियों का राज नहीं चलता था। यह तब हुआ जब नीतीश कुमार बाढ़ के सांसद बने। मोकामा में अगर किसी ने अपराध को बढ़ावा दिया है तो वह नीतीश कुमार हैं।

दिलीप सिंह के लिए तीन दिन किया अनशन

डा. संजय जायसवाल ने मुख्यमंत्री पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि जब नीतीश कुमार बाढ़ के सांसद थे, उस समय जनता दल के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष राजजीवन सिंह किसी भी अपराधी को टिकट देने के पक्ष में नहीं थे, लेकिन सांसद नीतीश कुमार इसके खिलाफ तीन दिन तक अनशन पर बैठ गए और सिर्फ नीतीश कुमार की जिद के कारण दिलीप सिंह (अनंत सिंह के बड़े भाई) को टिकट देना पड़ा। 

लोगों में है गहरी नाराजगी

बीजेपी के प्रदेश के मुखिया ने कहा कि वह उप चुनाव को लेकर खुद पूरे क्षेत्र का भ्रमण कर चुके हैं। इस दौरान मैनें देखा कि यहां मौजूदा नीतीश सरकार और अपराधिक छवि वाले लोगों के बाहर निकलने की बैचेनी है। मैं यह दावा कर सकता हूं मोकामा से जिस भी कैंडिडेट को बीजेपी को टिकट देगी, उसकी जीत निश्चित है।

कार्तिकेय सिंह खुलेआम कर रहे प्रचार

डा. संजय जायसवाल  ने आरोप लगाया कि बिहार में नीतीश कुमार राजद के रबड़ स्टांप मुख्यमंत्री बन कर रह गए हैं। यही कारण है कि वारंट जारी होने के बाद भी कार्तिकेय सिंह खुलेआम मोकामा में चुनाव प्रचार कर रहे हैं. लेकिन उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है। क्योंकि तेजस्वी यादव ने उन्हें कार्रवाई करने से रोक दिया है। 


Find Us on Facebook

Trending News