राज्य सरकार ने बेजुबान पशुओं को भूखों मरने पर विवश कर दिया : भाजपा

राज्य सरकार ने बेजुबान पशुओं को भूखों मरने पर विवश कर दिया : भाजपा

RANCHI : भाजपा प्रदेश प्रवक्ता प्रदीप सिन्हा ने विश्व एनिमल दिवस पर प्रदेश कार्यालय में प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि हेमंत सरकार में बेजुबान पशुओं को भी भूख से मरने को विवश कर दिया गया है. एक तरफ इन्ही पशुओं के चारा घोटाले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद जी के आव भगत में पूरी सरकार समर्पित हैं,वहीं बेजुबान पशु दाने दाने को मोहताज हैं. 

सिन्हा ने कहा कि पशुपालन विभाग द्वारा राज्य में संचालित डेयरी, पोल्ट्री फार्म, आज राज्य सरकार की उदासीनता के कारण बंदी के कगार पर हैं. इस क्षेत्र के लिये विभाग ने नई सरकार बनने के बाद कोई आवंटन नही दिया. दुधारू पशु भुखमरी के कगार पर हैं. उन्होंने कहा कि रांची स्थित होटवार, हजारीबाग स्थित गोरिया करमा एवं  सरायकेला खरसावां स्थित फार्म में स्थिति गंभीर है. 

उन्होंने कहा कि देश मे श्वेत क्रांति के माध्यम से आय वृद्धि और कुपोषण मुक्त भारत का सपना देखा जा रहा है. वही दूसरी ओर राज्य सरकार आवश्यक संसाधन और आवंटन भी उपलब्ध कराने में विफल है. सिन्हा ने कहा कि भाजपा एक सशक्त और सकारात्मक विपक्ष की भूमिका निभाते हुए सरकार का ध्यान इस ओर आकर्षित कराना चाहती है. सिन्हा ने कहा कि भाजपा मांग करती है कि विभागीय सचिव और निदेशक तत्काल आवश्यक पहल करते हुए आवंटन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें. ताकि बेजुबान पशुओं की जान बच सके. 

प्रेसवार्ता में उपस्थित प्रदेश प्रवक्ता मिस्फीका हसन ने प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा पर राज्य सरकार पर कड़ा प्रहार किया. उन्होंने कहा कि राज्य में आज महिलाएं असुरक्षित हैं. संथाल परगना क्षेत्र की स्थिति और भयावह है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के गृह क्षेत्र में दलित लड़की के साथ थाना प्रभारी का दुर्व्यवहार जग जाहिर है. वहीँ कहा कि हाथरस में राजनीतिक रोटी सेकने वाली कांग्रेस पार्टी झारखंड की दलित बेटी पर मौन साधे रही. कहा कि दिव्यांग लड़की,आश्रम की साध्वी भी राज्य में सुरक्षित नही है. आज राज्य में 7 महीने में ही 1 हजार से ज्यादा बलात्कार की घटनायें ऑन रिकॉर्ड है. 

रांची से मोइजुद्दीन की रिपोर्ट  

Find Us on Facebook

Trending News