"सीता" और "रावण" के बाद अब भाजपा को मिला "राम" का सहारा, पढ़िए पूरी खबर

"सीता" और "रावण" के बाद अब भाजपा को मिला "राम" का सहारा, पढ़िए पूरी खबर

NEW DELHI : 1987 में रामानंद सागर की मशहूर धारावाहिक “रामायण” जब छोटे परदे पर आती थी. तब सड़कों पर सन्नाटा पसर जाता था. इस धारावाहिक में अभिनय करने कलाकारों की छवि आज भी लोगों के जेहन में हैं. इस बीच आज इस सीरियल में श्रीराम की भूमिका निभानेवाले अरुण गोविल ने आज भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया. नयी दिल्ली में अरुण गोविल ने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की. 

बताते चलें की रामायण में माता सीता की भूमिका निभाने वाली दीपिका चिखलिया पहले ही भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो चुकी है. वह दो बार सांसद भी बन चुकी हैं. हालाँकि अरुण गोविल को अभी कोई पार्टी में भूमिका नहीं दी गयी है. लेकिन 5 राज्यों पश्चिम बंगाल, केरल, पुडुचेरी, असम और तमिलनाडु में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले अरुण गोविल की बीजेपी में एंट्री खास मानी जा रही है.

गौरतलब है की अरुण गोविल का जन्म उत्तरप्रदेश के राम नगर में हुआ था. इनकी प्रारम्भिक शिक्षा भी उत्तरप्रदेश से ही हुई. पढ़ने के दौरान वह नाटकों में अभिनय भी करते थे. इनके पिता चाहते थे कि यह एक सरकारी नौकरीपेशा बने. लेकिन  अरुण गोविल का झुकाव ठीक इसके विपरीत था. अरुण कुछ ऐसा करना चाहते थे जो यादगार बने, इसलिए सन् 1975 में वे बम्बई चले गए और वहाँ खुद का व्यवसाय प्रारम्भ किया. बताया जाता है उस समय वे केवल 17 साल के थे. कुछ दिनों के बाद इन्हें अभिनय के नए नए रास्ते मिलने शुरू हो गए. बाद में रामानंद सागर के रामायण से उन्हें नयी पहचान मिली. 

नई दिल्ली से धीरज की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News