पूर्व मंत्री फातमी पर जमकर बरसे बीजेपी सांसद गोपालजी ठाकुर, कहा बयान बहादुर नहीं कार्य बहादुर बनने से विकास होता है

पूर्व मंत्री फातमी पर जमकर बरसे बीजेपी सांसद गोपालजी ठाकुर, कहा बयान बहादुर नहीं कार्य बहादुर बनने से विकास होता है

DARBHANGA : झूठी बयानबाजी से नहीं धरातल पर मेहनत करने से विकास होता है। उक्त बातें दरभंगा सांसद डॉ गोपाल जी ठाकुर ने पूर्व सांसद अली असरफ फातमी के झूठे बयानबाजी पर टिप्पणी करते हुए कहा। उन्होंने कहा की जिनका पूरा संसदीय कार्यकाल ही झूठे वादे पर टिका हुआ था। जो अपने मंत्रित्वकाल में दरभंगा में कोई महत्वपूर्ण परियोजना नहीं ला सके। इन्ही के सरकार के कार्यकाल में राष्ट्रीय मखाना अनुसंधान केंद्र का राष्ट्रीय दर्जा छीन लिया गया था। ये मानव संसाधन मंत्री रहते दरभंगा के दोनो विश्वविद्यालय में से किन्हीं एक को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा नहीं दिला सके, 62 एकड़ में फैले मिथिला स्नातकोत्तर संस्कृत अध्ययन एवं शोध संस्थान का जीर्णोधार नहीं कर सके,वो दूसरो को नसीहत देना बंद करें। 

इन्होंने अपने संसदीय कार्यकाल एवं मंत्रित्वकाल में दरभंगा के लोगों को सिर्फ ठगने का कार्य किया है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में सबसे अधिक विकासात्मक कार्य दरभंगा में हुआ। दरभंगा एम्स, एयरपोर्ट, बिहार का प्रथम एक्सप्रेस वे सड़क,तारामंडल, एसटीपीआई पार्क,कचरा प्लांट,आयुष अस्पताल,सुपर स्पेशलिटी अस्पताल,रिंग रोड,कई आरओबी,विश्वस्तरीय दरभंगा रेलवे स्टेशन,रेलवे दोहरीकरण एवं विद्युतीकरण,कई एनएच सड़क, सैकड़ों किलोमीटर लंबी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क जैसे कई ऐतिहासिक कार्य हुआ है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में बिहार में उन्हीं की पार्टी की राज्य सरकार में सरकार ,जो दरभंगा सहित संपूर्ण मिथिला के विकास में अवरोधक बनी हुई है। अगर इन्हें दरभंगा की इतनी चिंता है तो बिहार सरकार से दरभंगा में जमीन के अभाव में लटके दर्जनों महत्वपूर्ण परियोजना हेतु जमीन हस्तांतरण में सहयोग करें। 

सांसद डॉ ठाकुर ने कहा कि जहां बात बैंगनी हाल्ट का सवाल है तो उन्होंने भाषण दिया कि पूर्व के तत्कालीन रेल मंत्री ने मौखिक घोषणा किया था कि बैंगनी में हॉल्ट होगा। शायद फातमी यह भूल गए हैं कि उनकी तत्कालीन सरकार सिर्फ मौखिक घोषणा और शिलान्यास करने का ही कार्य की थी,कार्य करना उनका फितरत नहीं था।अगर तत्कालीन रेल मंत्री हवा हवाई घोषणा के बदले कागज पर आदेश देते तो आज दृश्य कुछ अलग होता और फातमी जो बहुत दिनों तक संसदीय जीवन व्यतीत कर चुके हैं उनको इस बात की जानकारी बेहतर रूप से होगी।

उन्होंने कहा की याद दिला दूँ कि आपने अपने सांसद एवं मंत्रित्वकाल काल में रेलवे के किसी अधिकारी को बिना सूचना और बगैर कोई कागजी कार्रवाई किए दरभंगा-मुजफ्फरपुर नई रेल लाईन पर शिलान्यास का बोर्ड डिलाही में लगवा दिए थे और अगले दिन उस बोर्ड का कोई अता- पता नहीं रहा। लोग आज भी उस शिलान्यास बोर्ड को खोज रहें हैं। आपका जहाँ पंडासराय में आवास है वहाँ अवस्थित पंडासराय- 18 नम्बर गुमती एवं जिस रास्ते से अपने गाँव जाते हैं। लहेरियासराय चट्टी गुमती पर ओवरब्रिज तक का निर्माण अपने संसदीय कार्यकाल में नहीं करवा पाए। 

ठाकुर ने कहा की मैं आश्वस्त करता हूँ कि वह ओवर ब्रिज भी मैं अपने सांसद काल में निर्माण करवाऊँगा। अतः फातमी से आग्रह कि समाज में गलत और झूठी विषय बोलकर विद्वेष ना फैलाने की चेष्टा ना करें और इस प्रकार की हल्की राजनीति ना करें। सांसद ने कहा कि तत्कालीन सरकार की गलती के कारण ही दरभंगा-मुजफ्फरपुर रेल लाइन निर्माण में विलंब हो रहा है। दरभंगा के जनता जनार्दन को भी पूर्ण विश्वास है की मिथिला का सर्वांगीण विकास मोदी सरकार ही कर सकती है।

दरभंगा से वरुण तःकुर की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News