बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

LATEST NEWS

नीतीश कुमार के बयान पर बीजेपी के "सम्राट" ने किया पलटवार, कहा- डरे हुए हैं सीएम नीतीश, बीमारी में आराम की है जरूरत

नीतीश कुमार के बयान पर बीजेपी के "सम्राट" ने किया पलटवार, कहा- डरे हुए हैं सीएम नीतीश, बीमारी में आराम की है जरूरत

PATNA: बिहार की सियासत इन दिनों गरमाई हुई है। लोकसभा चुनाव आने से पहले ही पक्ष-विपक्ष में बयानबाजियों का दौर शुरू हो गया है। इसी कड़ी में बीते दिन बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने कहा था कि बीजेपी से उनकी दोस्ती ताउम्र रहेगी। इस बयान के बाद से ही राज्य में सियासी हलचल शुरू हो गई थी। वहीं शनिवार को अपने बयान पर सफाई देते हुए नीतीश कुमार ने कहा है कि उनकी बातों का गलत मतलब निकाला जा रहा है और उन्होंने तेजस्वी यादव को लेकर कहा है कि यही उनके बच्चे हैं औऱ यही सब कुछ हैं। वहीं सीएम के इस बयान से एक बार फिर बयानबाजियों का दौर शुरू हो गया है। भाजपा के नेताओं ने इस बयान पर तीखी प्रतिक्रिया दी है। वहीं सम्राट चौधरी ने यहां तक कह दिया है कि नीतीश कुमार बिमार हो गए हैं। वह कब क्या बोल देंगे उनको खुद नहीं पता, इसलिए उनकी बातें अब दुध-भात के समान है। 



बीमार हैं सीएम नीतीश, आराम करने की है जरूरत

दरअसल, नीतीश कुमारा के बयान पर पलटवार करते हुए बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने कहा कि नीतीश कुमार को आराम करना चाहिए, नीतीश कुमार बीमार चल रहे हैं। वह कब क्या बोलेंगे, कब किसको दोस्त किसको दुश्मन बनाएंगे कोई नहीं जानता है। सम्राट चौधरी ने कहा कि नीतीश कुमार इतने डर क्यों जाते हैं। वह तो बेपाक बोलने वाले नेता थे ना तो अब वह किससे डर रहे हैं। कितना डरा हुआ मुख्यमंत्री मैं देख रहा हुं, इसलिए ही बोलते हैं कि नीतीश कुमार की बात अब दुध-भात हैं वह कुछ भी बोले उसका कोई महत्व नहीं है। 



एम्स, विश्वविद्यालय, एयरपोर्ट के लिए नहीं, राज के लिए है जमीन

वहीं नीतीश कुमार के बयानों पर पलटवार करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि विश्वविद्यालय बनने में राज्य सरकार का कोई रोल नहीं है। केंद्र का पैसा लगा है। जब तक कांग्रेस का सरकार था तब तक विश्वविद्यालय के लिए एक इंच जमीन और एक रुपया भी नहीं दिया गया। जमीन राज्य सरकार ने उपलब्ध करवाया लेकिन सारा पैसा केंद्र सरकार का लगा। वहीं राज्य में केंद्रीय विश्वविद्यालय के तौर पर विक्रमशिला विश्वविद्यालय बनाने के लिए लगभग 6 सौ करोड़ रुपए पड़े हुए हैं, लेकिन मुख्यमंत्री जमीन ही नहीं दे रहे हैं। बिहार में ना एम्स के लिए जमीन है, ना रोड के लिए जमीन है, ना ही विश्वविद्यालय के लिए जमीन है, ना एयरपोर्ट के लिए जमीन है, केवल राज करने के लिए जमीन है।  



जनता चुनेंगी कौन होगा अगला उत्तराधिकारी

सम्राट चौधरी ने नीतीश कुमार के बीजेपी में कभी शामिल ना होने वाले बयान को लेकर कहा कि उनको नेवता देने जा भी कौन रहा है। उनको बोला कौन रहा है। उन्होंने कहा कि 2013 में भी नीतीश कुमार ही भाजपा को छोड़ कर भागे थे। उनको तो प्रधानमंत्री बनना था। और आज भी 2022 में भी नीतीश कुमार को किसी ने भगाया नहीं है। वह खुद भागे हैं। और उत्तराधिकारी भी तय कर दिए हैं कि यही बच्चा मेरा उत्तराधिकारी है। लेकिन उत्तराधिकारी सीएम नीतीश नहीं बिहार की जनता तय करेगी कि बिहार का उत्तराधिकारी कौन होगा। 



पलटासन का ट्यूशन देंगे सीएम

बीते दिन अशोक चौधरी ने कहा था कि भाजपा वालों को सीएम नीतीश से ट्यूशन लेना चाहिए। इसे लेकर सम्राट चौधरी ने मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए कहा कि, एकदम लेंगे, बुजुर्ग हैं। वह जब ट्यूशन देना चाहे तब बुलाए हम जरूर जाएंगे, लेकिन बता दें कि उनसे सीखना क्या है? पलटासन का गुण सिखना है क्या, अगर वह सिखाना है तो जाएंगे। नहीं तो भारतीय जनता पार्टी का सिद्धांत बहुत बड़ा है। इसमें नीतीश कुमार कहीं टीक नहीं पाएंगे। 


Suggested News