BIHAR NEWS : भाई ने बहन के लिए छोड़ा जिला परिषद अध्यक्ष का पद, उपाध्यक्ष पद पर निर्विरोध हुए निर्वाचित

BIHAR NEWS : भाई ने बहन के लिए छोड़ा जिला परिषद अध्यक्ष का पद, उपाध्यक्ष पद पर निर्विरोध हुए निर्वाचित

SUPAUL : जिला परिषद अध्यक्ष पद को लेकर पिछले एक महीने से चल रहा उठापटक बुधवार को समाप्त हो गया। इस बीच उपाध्यक्ष शमशेर आलम और जिला परिषद के अध्यक्ष पद पर कमला देवी निर्विरोध निर्वाचित घोषित किए गए। चुनावी प्रकिया में भाग लेने के लिए तय समय पर टीसीपी भवन सभागार में 25 पार्षद उपस्थित हुए। हालांकि वर्तमान जिला परिषद अध्यक्ष शमशेर आलम अब की बार अध्यक्ष पद के लिए दावेदारी नही किए थे। शमशेर आलम 2017-18 से लेकर 2021तक जिला परिषद अध्यक्ष पद पर काबिज थे और उनके कार्यकाल भी अच्छे रहे। दुसरे बार भी शमशेर आलम अपार बहुमत से जीत दर्ज की है। बता दे कि जिला मे 25 जिला परिषद सदस्य निर्वाचित हुए हैं। जिसमें अधिक नये चेहरे सामने आये है। समाहरणालय टीसीपी भवन के सभागार में जिला परिषद सदस्यों की अहम बैठक की गई। 

जिसमें डीएम महेन्द्र कुमार तथा बन्दोबस्त पदाधिकारी-सह- पर्यवेक्षक सहरसा की देख रेख में डीएम महेन्द्र कुमार ने पहले सभी जिला परिषद सदस्यों काे पद की गोपनियता की शपथ दिलाई एवं शराब बंदी के समर्थन में नशा मुक्ति का भी शपथ दिलाई। इसके बाद जिला अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पद को लेकर नामांकन की प्रक्रिया प्रारंभ हुई। जिला परिषद अध्यक्ष पद के लिए जिला परिषद क्षेत्र संख्या 07 के कमला देवी ने अपना नामांकन दाखिल किया। निर्धारित समय तक किसी अन्य सदस्यों द्वारा नामांकन दाखिल नहीं किया। इधर उपाध्यक्ष पद को लेकर भी सदस्यों में एकजुटता दिखी। इस पद पर जिला परिषद क्षेत्र संख्या 02 के जिला परिषद सदस्य एवं वर्तमान में जिला परिषद अध्यक्ष शमशेर आलम ने नामांकन दाखिल किया। किसी अन्य सदस्यों द्वारा नामांकन दाखिल नहीं करने के बाद इन्हें भी निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया। नव निर्वाचित जिला परिषद अध्यक्ष कमला देवी बिहार सरकार के उर्जा मंत्री बिजेन्दर यादव के रिस्तेदार बताये जा रही है। नव निर्वाचित जिला परिषद अध्यक्ष कमला देवी ने कहा की हम सब एक साथ आपस में मिलकर विकास का नींव रखेंगे और सुपौल जिला को विकास की ओर आगे बढ़ाएंगे। जिसको लेकर समर्थकों में काफी खुशी की लहर देखने को मिला। जानकारी देते हुए डीएम महेन्द्र कुमार ने बताया कि जिला परिषद अध्यक्ष व उपाध्यक्ष की चुनाव पारदर्शिता के साथ कराई गई है। जिसमें जिला परिषद अध्यक्ष व उपा अध्यक्ष पद के लिए निर्विरोध चुने गए हैं। अध्यक्ष पद के लिए कमला देवी व उपाध्यक्ष पद के लिए शमशेर आलम निर्वाचित घोषित हुए हैं। 

वर्तमान जिला परिषद अध्यक्ष रहे नवनिर्वाचित जिला परिषद उपाध्यक्ष शमशेर आलम ने बताया कि एक ही चुनाव मैदान में भाई बहन का आना  वाजीब नहीं है। जो हमसे बड़े हैं बहन कमला देवी। इसलिए हमने उम्र की लिहाज को देखते हुए अपने पद को कुर्बानी देकर की बहन कमला देवी को निर्विरोध जिला परिषद अध्यक्ष बनायें है। हम भाई-बहन  मिलकर सुपौल जिले को एक नए विकास की ओर लकीर सीचीगें। जिला परिषद के निर्वाचित सभी सदस्यों की एकजुटता ने पंचायती राज व्यवस्था के जिला परिषद में एक मिसाल कायम किया है. जो हर तरफ चर्चा की विषय बना हुआ है। 

सुपौल से पप्पू आलम की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News