वीटीआर के जंगल से भटककर आये भैंसों ने किसान पर किया हमला, मौके पर हुई मौत, आक्रोशित लोगों ने किया सड़क जाम

वीटीआर के जंगल से भटककर आये भैंसों ने किसान पर किया हमला, मौके पर हुई मौत, आक्रोशित लोगों ने किया सड़क जाम

BAGAHA : वीटीआर के जंगल से भटक कर आबादी क्षेत्रों में पंहुचे जंगली भैंसों के झुंड ने खेत में सिंचाई कर रहे किसान पर हमला कर दिया। जिससे किसान की मौके पर मौत हो गयी। इस घटना से गुस्साए परिजनों व ग्रामीणों ने दोन नहर के 62 आरडी पुल के समीप मुख्य सड़क जाम कर दिया।

मिली जानकारी के मुताबिक खेत में सिंचाई कर रहे लौकरिया गांव निवासी होमलाल महतो पर जंगली भैसों के झुंड ने हमला कर दिया। जिससे उसकी मृत्यु घटनास्थल पर ही हो गई। आक्रोशित ग्रामीणों ने दोन नहर स्थिति 62 पुल पर शव रखकर हरनाटांड़ बगहा मुख्य सड़क जाम कर दिया। लौकरिया पुलिस, हरनाटांड़ रेंजर व थारू कल्याण महासंघ के लोगों के घंटों मशक्कत के बाद जाम समाप्त किया गया। हरनाटांड़ रेंजर रमेश प्रसाद श्रीवास्तव ने बताया कि लौकरिया निवासी खूबलाल महतो दोन नहर के समीप अपने खेत में गन्ने की सिंचाई कर रहे थे। इसी क्रम में जंगल की तरफ से दौड़ते आ रहे दो जंगली भैंसों ने उन पर हमला कर दिया। उन्होंने बताया कि एक जंगली भैंसा मिश्रौली गांव के समीप बांसवारी में तथा दूसरा भागकर हरनाटांड़ के समीप एक फुलवारी में शरण ले रहा है। खूनी भैंसों पर नजर रखने के लिए प्रशासन द्वारा एसएसबी, स्थानीय थाना व वीटीआर प्रशासन को लगाया गया है। जिनके द्वारा लगातार जंगली भैंसों की गतिविधियों पर पल-पल की नजर बनाते हुए जानकारी एकत्रित की जा रही है। 

हरनाटांड़ रेंजर रमेश प्रसाद सिन्हा ने बताया कि मृतक के परिजनों को वन विभाग के नियमानुसार पांच लाख रुपए की मुआवजा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि वरीय पदाधिकारियों को इसकी सूचना दे दी गई है। विभागीय नियमानुसार सहयोग करने का भी उन्होंने आश्वासन दिया।

बगहा से माधवेन्द्र पाण्डेय की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News