कलकत्ता हाई कोर्ट ने पुलिस को दिया गुमशुदा सूअर को तुरंत ढूंढने का निर्देश, एसपी को लगाई फटकार

कलकत्ता हाई कोर्ट ने पुलिस को दिया गुमशुदा सूअर को तुरंत ढूंढने का निर्देश, एसपी को लगाई फटकार

कोलकाता. कलकत्ता हाई कोर्ट ने एक सूअर शावक को ढूंढने के लिए पुलिस को निर्देश दिया है. इसके लिए अदालत से जुड़े कुछ अधिवक्ताओं ने ही हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी और सूअर के गुमशुदा होने पर चिंता जताई थी. दरअसल, छह साल पहले कल्याणी अदालत परिसर में एक सूअर शावक का जन्म हुआ था. सूअर का बच्चा वहां रोजाना आने वाले अधिवक्ताओं सहित स्थानीय निवासी व दुकानदारों का काफी प्रिय हो गया था. लोग उसे खाना खिलते और काफी स्नेह देते थे. 

इसी बीच 25 मार्च 2022 को सूअर अचानक से लापता हो गया. सीसीटीवी फुटेज से पता चला कि कुछ लोग उसके पैर बांधकर उसे गाड़ी में उठाकर ले गए थे. वीडियो फुटेज में गाड़ी का नंबर प्लेट भी दिख रहा है. इस बाबत स्थानीय कल्याणी थाने में शिकायत दर्ज कराई गई थी लेकिन ठोस कदम नहीं उठाया गया है इसलिए हाई कोर्ट में मामला दायर किया गया है.

अब कोर्ट  ने भी इसे जीव कल्याण की महत्ता से जोड़ते हुए पुलिस को गंभीरता दिखाने और सूअर खोजने कहा है. इसके लिए बाकायदा एसपी को कहा गया है कि वे खुद पूरे मामले को देखें तो सूअर का पता लगाएं. अधिवक्ता अनुमिता भद्र के जीव रक्षा कानून के तहत सभी को संरक्षण का अधिकार प्राप्त है. इसलिए सूअर को सिर्फ एक जानवर के रूप में नहीं देखा जाना चाहिए. अनुमिता ने आशंका जताई कि बेचने के इरादे से उसे उठाकर ले जाया गया है.

न्यायाधीश शंपा सरकार ने  सुनवाई करते हुए राणाघाट के पुलिस अधीक्षक को फटकार लगाते हुए कहा कि अदालत परिसर में इस तरह की घटना की उम्मीद नहीं की जा सकती. आगे इस तरह की घटना न हो, यह सुनिश्चित किया जाए.



Find Us on Facebook

Trending News