घर से बाहर बुलाया और सिर में मार दी गोली, मां के सामने ही जमीन पर गिर पड़ा युवक, दोस्त ने किया घर से बाहर आने को मना

घर से बाहर बुलाया और सिर में मार दी गोली, मां के सामने ही जमीन पर गिर पड़ा युवक, दोस्त ने किया घर से बाहर आने को मना

BHAGALPUR : इस वक़्त एक बड़ी खबर भागलपुर जिले से सामने आ रही है. जिले के तातारपुर क्षेत्र के अमीर हसन लेन में टीएमबीयू में पीजी बॉटनी के रिटायर्ड प्रोफेसर डॉ. शहाब अहमद के बेटे सैफ शहाब (26) की घर के गेट पर मां के सामने गोली मारकर हत्या कर दी गयी। बताया गया कि शुक्रवार देर शाम पौने आठ बजे बदमाशों ने कॉल कर सैफ को बुलाया और घर से निकलते ही बाइक सवार बदमाशों ने सिर में पीछे से गोली मार दी। सैफ नई दिल्ली में बीसीए फाइनल ईयर की पढ़ाई कर रहा था। बताया जा रहा है कि मो. सैफ को बदमाशों ने दो गोली मारी, जिसके बाद उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराया है. जहां डॉक्टरों ने मो सैफ को मृत घोषित कर दिया. 

दरवाज नहीं खुला तो मोबाइल पर कॉल कर बुलाया घर के बाहर

मामले में सैफ के परिजनों ने बताया कि  बाइक से तीन बदमाश आये थे। बदमाशों ने पहले गेट खटखटाया। जोर से दरवाजा खटखटाने की आवाज सुनकर सैफ की मां शेरुण निशा बाहर निकली और पूछा कि कौन है। वह समझ गयी कि कोई लफंगा है, इसलिए गेट नहीं खोला। खटखटाने पर गेट नहीं खुला तो बदमाश ने सैफ के मोबाइल पर कॉल कर उसे बाहर बुलाया। सैफ जैसे ही बाहर निकला, उसकी मां भी पीछे से निकल गयी। उस समय बिजली कटी हुई थी। मां ने बताया कि बाइक पर तीन लड़के सवार थे। कुछ ही सेकेंड की बातचीत के बाद बाइक पर पीछे बैठे लड़के ने मुड़कर सैफ को गोली मार दी। मां के सामने ही बेटा गोली लगने पर गिर पड़ा। 


दोस्त ने किया था घर से निकलने को मना

बताया गया कि सैफ को खोज रहे तीनों बदमाश जब्बारचक में रहने वाले उसके एक दोस्त विक्की के पास पहले पहुंचे थे। वहां सैफ के बारे में पूछा तो विक्की ने कहा कि उसे सैफ के बारे में नहीं पता। उसके बाद वे तीनों सैफ के घर की तरफ निकल गये। जिसके बाद हत्या के कुछ देर पहले के सैफ को उसके दोस्त विक्की ने फोन पर मैसेज कर आगाह किया था कि किसी भी स्थिति में न तो घर से बाहर निकलना और न ही घर का दरवाजा खोलना। लेकिन किस्मत ऐसी कि टीवी पर मूवी देखने में व्यस्त रहने के कारण वह अपने दोस्त का मैसेज नहीं देख सका। इस दौरान बिजली भी कट गई, वहीं अपराधियों ने उसे फोन कर बाहर बुला लिया और गोली मार दी।  परिजन सैफ की हत्या के पीछे कोई भी कारण नहीं बता रहे। 

दो गोली चलने की आवाज आयी, हल्ला होने लगा

जिस समय सैफ को उसके ही घर के गेट पर गोली मारी गयी, उस समय बिजली कटी हुई थी जिस वजह से उसकी मां उन बदमाशों का चेहरा ठीक से नहीं पहचान सकी। सैफ पर दो गोली चलने की आवाज सुनी गयी। ऐसी आशंका है कि एक गोली उसे नहीं लगी जबकि दूसरी लग गयी। गोली लगते ही वह अपने घर के गेट के ठीक बाहर गिर पड़ा। उसे गोली लगते ही उसकी मां जोर से चिल्लाने लगी। इसके बाद कुछ लोग इकट्ठा हो गये। तीनों बाइक सवार बदमाश नगर निगम के गोदाम की तरफ मुख्य सड़क पर भाग निकले। 

गलत संगत में पड़ गया था सैफ

पुलिस की शुरुआती जांच में पता चला है कि सैफ की कुछ गलत लड़कों से संगति हो गयी थी। जिस विक्की ने सैफ को घर से नहीं निकलने को लेकर मैसेज किया था वह कुछ ही दिन पहले जेल से छूटकर आया है। तातारपुर पुलिस ने उसे बाइक चोरी के आरोप में जेल भेजा था। इस तरह की संगत को देखकर ही सैफ को पढ़ाई के लिए दिल्ली भी भेजा गया था पर लॉकडाउन की वजह से वापस लौट गया जिसके बाद डिस्टेंस एजुकेशन के तहत उसका एडमिशन करा दिया गया। सैफ के पिता ने बताया कि उनका बेटा दिल्ली में रहता है। एक बेटी भी है। सैफ तीनों में छोटा था।

घटना की सूचना मिलने पर एसपी सिटी स्वर्ण प्रभात, एएसपी सिटी पूरन झा और तातारपुर इंस्पेक्टर एसके सुधांशु घटनास्थल पर पहुंचे। जब पता चला कि विक्की नाम के युवक ने सैफ को मैसेज किया है तो विक्की को पुलिस ने बुलाया और उसे फिलहाल हिरासत में लेकर पूछताछ की गयी तो उसने एक बदमाश की पहचान पुलिस को बता दी। उसकी तलाश में पुलिस कई जगहों पर छापेमारी के लिए पहुंची। मामले में सिटी एसपी स्वर्ण प्रभात ने बताया कि हत्या के कारण का पता किया जा रहा है। घटना में शामिल अपराधियों में एक की पहचान हो गई है। उसकी तलाश में छापेमारी की जा रही है। एक को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

Find Us on Facebook

Trending News