बिहार में 7 जनवरी से जातीय गणना का काम होगा शुरू, पहले चरण में मकान और दूसरे चरण में होगी लोगों की गिनती

बिहार में 7 जनवरी से जातीय गणना का काम होगा शुरू, पहले चरण में मकान और दूसरे चरण में होगी लोगों की गिनती

पटना. बिहार में 7 जनवरी से जाति सह आर्थिक गणना शुरू होगी। इसको लेकर सामान्य प्रशासन विभाग ने अधिसूचना जारी की है। जाति सह आर्थिक गणना का काम दो चरणों में पूरा होगा। पहले चरण में मकान की गिनती होगी और दूसरे चरण में मार्च में जाति के साथ आर्थिक गणना होगी।

21 जनवरी तक मकानों की गिनती पूरी कर ली जाएगी। गणना को लेकर मकान पर नंबरिंग किया जाना है। इसके लिए गणना कर्मियों को 15 दिन का समय दिया गया है। जाति सह आर्थिक गणना के लिए 15 दिसंबर को बिपार्ड में राज्यस्तरीय ट्रेनिंग होगी। इसमें राज्य के सभी 38 जिलों से 10-10 अधिकारी शामिल होंगे।

पटना जिले में 2011 के जनगणना के अनुसार 58 लाख 38 हजार 465 आबादी थी। 11 साल बाद वर्तमान समय में पटना जिले में 74 लाख 32 हजार 950 आबादी होने का अनुमान लगाया गया है। इन लोगों की गिनती 12,696 प्रगणक करेंगे। पटना जिले में 204 जातियों की गणना के लिए 11 कोषांग और 45 चार्ज का गठन किया गया है। सभी कोषांग में वरीय नोडल पदाधिकारी और नोडल पदाधिकारी प्रतिनियुक्ति की गई है।


Find Us on Facebook

Trending News