रेलवे भर्ती घोटाले में गिरफ्तार भोला यादव की सीबीआई हिरासत बढ़ी, 5 अगस्त तक होगी पूछताछ, लालू के हैं बेहद खास

रेलवे भर्ती घोटाले में गिरफ्तार भोला यादव की सीबीआई हिरासत बढ़ी, 5 अगस्त तक होगी पूछताछ, लालू के हैं बेहद खास

पटना. रेलवे भर्ती घोटाले में गिरफ्तार राजद सुप्रीमो लालू यादव के खास भोला यादव की सीबीआई हिरासत बढ़ गई है. भोला यादव सहित इस मामले में गिरफ्तार रेलवे कर्मी हृदयानंद चौधरी को 5 अगस्त तक सीबीआई की हिरासत में भेजा गया है. 6 अगस्त को फिर से सुनवाई होगी. इन दोनों की सीबीआई रिमांड 2 अगस्त थी. मंगलवार को इस मामले में कोर्ट ने आगे की पूछताछ के लिए भोला या हृदयानंद की सीबीआई रिमांड 5 अगस्त तक बढ़ाने का आदेश दिया. 

पूर्व विधायक भोला यादव को लालू प्रसाद का सबसे करीबी माना जाता है. वर्ष 1992 से लालू के करीबी रहे भोला परछाई की तरह उनके साथ रहे. लालू के रेल मंत्री रहने के दौरान 2004 से 2009 भोला विशेष कार्य पदाधिकारी रहे. वह जिन दिनों लालू के ओएसडी थे, उन्हीं दिनों रेलवे भर्ती घोटाला हुआ, जिसकी जांच कई वर्षो चली. सीबीआइ ने आरोप प्रमाणित होने के बाद इसी वर्ष 20 मई को लालू के पटना स्थित आवास के साथ ही देश के अलग-अलग 17 ठिकानों पर छापे मारे. लालू के साथ उनकी पत्नी राबड़ी देवी, पुत्री मीसा भारती, हेमा यादव एवं जमीन देकर नौकरी लेने वाले कुछ अन्य लोगों पर केस दर्ज किया गया था.


रेलवे में नौकरी के बदले जमीन के इस मामले में लालू यादव पहले और उनके परिवार के सदस्य पहले ही सीबीआई की पूछताछ झेल चुके हैं. पिछले सप्ताह 27 अगस्त को भी पटना, दरभगा, दिल्ली सहित अन्य ठिकानों पर छापेमारी हुई और भोला को गिरफ्तार किया गया. इसी मामले में पटना के राजेंद्र नगर टर्मिनल से हृदयानंद चौधरी की गिरफ्तारी हुई. उनपर आरोप है कि लालू प्रसाद के परिवार को महुआबाग की अपनी 3375 वर्गफीट जमीन देकर पूर्व मध्य रेलवे हाजीपुर में नौकरी ली. 

दोनों से आगे की पूछताछ के लिए सीबीआई ने उन्हें रिमांड पर लिया था. हालांकि मंगलवार को सीबीआई की ओर से अदालत को बताया गया कि अभी भी इस मामले में कई पेंच का सुलझना बाकी है. ऐसे में इन दोनों की रिमांड को बढ़ाने का आग्रह कोर्ट से किया गया. दोनों को अब 5 अगस्त तक सीबीआई की रिमांड में रहना होगा. बाद में 6 अगस्त को उन्हें फिर से न्यायालय में पेश किया जाएगा. 


Find Us on Facebook

Trending News