10वी-12वीं के टर्म वन परीक्षा के अंक CBSE ने किए जारी, लेकिन फाइनल रिजल्ट के लिए टर्म टू का करना होगा इंतजार

10वी-12वीं के टर्म वन परीक्षा के अंक CBSE ने किए जारी, लेकिन फाइनल रिजल्ट के लिए टर्म टू का करना होगा इंतजार

PATNA : सीबीएसई बोर्ड ने 10वीं क्लास के टर्म वन की परीक्षा का रिजल्ट जारी कर दिया है. इस बार बोर्ड की ओर से छात्रों का रिजल्ट सभी स्कूलों को भेजा गया है। चूंकि यह सिर्फ टर्म एक के परिणाम हैं, इसलिए छात्रों को अभी मार्कशीट या पासिंग सर्टिफिकेट नहीं दिया जायेगा। हालांकि छात्रों को टर्म वन में आये मार्क्स की जानकारी स्कूल प्रबंधन की ओर से दे दी जायेगी। सीबीएसई बोर्ड अप्रैल में 10वीं और 12वीं के टर्म-2 की परीक्षा लेगी। जिसके लिए एक दिन पहले ही डेट शीट जारी की गई है। दोनों परीक्षा के परिणाम को मिलाकर छात्रों के रिजल्ट और सर्टिफिकेट जारी किए जाएंगे।

दिसंबर में हुई टर्म वन की परीक्षा

कोरोना को देखते हुए इस बार सीबीएसई ने दो चरणों में परीक्षा लेने का फैसला किया था। जिसमें पिछले साल दिसंबर में टर्म वन की परीक्षा हुई थी। टर्म वन परीक्षा में प्रत्येक विषय में 40 मार्क्स के सवाल पूछे गये थे. इसके लिए विद्यार्थियों से 55 सवाल पूछे गये थे, जिनमें से 40 प्रश्नों का ही उत्तर विद्यार्थियों को देना था

स्कूलों में भेजे गए रिजल्ट के अंक

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने दसवीं टर्म-1 की अंक सीट सभी स्कूलों को मेल के जरिए भेज दी है। परीक्षार्थियों का टर्म-1 में कैसा प्रदर्शन रहा, इसकी जानकारी उन्हें दी गई है। टर्म-1 का केवल थ्योरी का अंक दिया गया है। इसमें प्रायोगिक परीक्षा, आंतरिक मूल्यांकन और प्रोजेक्ट वर्क का प्रदर्शन शामिल नहीं है। बोर्ड द्वारा वेबसाइट पर इसे जारी नहीं किया गया है।

टर्म टू के परीक्षा के बाद तय होगा वेटेज

बोर्ड की ओर से जारी सर्कुलर में यह भी बताया गया है कि फिलहाल टर्म वन और टर्म टू का वेटेज तय नहीं किया गया है. इससे टर्म वन के कितने प्रतिशत और टर्म टू के कितने प्रतिशत को फाइनल रिजल्ट में जोड़ा जायेगा यह अभी निर्धारित नहीं किया गया है. टर्म टू के परिणाम जारी करते समय वेटेज को तय किया जायेगा. इसके अलावा परीक्षा सेंटरों में भी कोई बदलाव नहीं किया जायेगा. स्कूलों द्वारा निर्धारित सेंटरों पर ही विद्यार्थियों को परीक्षा देनी होगी

बिहार के डेढ़ लाख परीक्षार्थी हुए थे शामिल

पटना सीबीएसई क्षेत्रीय कार्यालय की मानें तो बिहार से 1154 स्कूलों के लगभग डेढ़ लाख विद्यार्थी इसमें शामिल हुए। इनमें 876 स्कूलों का प्रदर्शन 85 से 95 फीसदी के अंदर रहा है। फाइनल रिजल्ट टर्म-2 के बाद : बोर्ड की मानें तो दसवीं बोर्ड का फाइनल रिजल्ट टर्म-2 होने के बाद जुलाई में जारी किया जायेगा। इस कारण अभी टर्म-1 का अंक बताया गया है। ज्ञात हो कि दसवीं टर्म-2 की परीक्षा 26 अप्रैल से 24 मई तक ली जायेगी। 

26 मार्च तक विद्यार्थी कर सकते हैं शिकायत

टर्म वन परीक्षा परिणाम के साथ मार्क्स पर आपत्ति होने पर विद्यार्थियों की सुविधा के लिए शिकायत दर्ज कराने के लिए डिस्पुट रेड्रेसल मेकानिजम को जारी किया गया है. 26 मार्च तक यह सुविधा विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध रहेगी. बोर्ड ने इस संबंध में अपनी वेबसाइट cbse.nic.in पर लिंक शेयर किया है. टर्म टू परीक्षा का परिणाम जारी होने के बाद ही अंतिम निर्णय लिया जायेगा


Find Us on Facebook

Trending News