चलती बस में घुसा 100 फीट का पाइप; एक महिला की गर्दन धड़ से अलग तो युवक का सिर फटा, दोनों की मौत, 11 यात्री घायल

चलती बस में घुसा 100 फीट का पाइप; एक महिला की गर्दन धड़ से अलग तो युवक का सिर फटा, दोनों की मौत, 11 यात्री घायल


डेस्क... राजस्थान के  पाली में चलती बस में झूलता पाइप ड्राइवर सीट के पीछे वाली सीट की खिड़की ताेड़कर बस में घुस गया और सबसे पीछे वाली सीट की खिड़की ताेड़कर पार हाे गया। इसमें दो लोगों की मौत हो गई, वहीं 11 यात्री घायल हो गए। जयपुर-अहमदाबाद एनएच-162 पर सांडेराव गांव के निकट मंगलवार शाम करीब 4.30 बजे भूमिगत गैस पाइपलाइन बिछाने के दौरान कंपनी के अधिकारियों-कर्मचारियाें व बस चालक की लापरवाही से बड़ा हादसा हाे गया।

कंपनी की टीम हाइड्रोलिक मशीन से पाइप उठाकर उसे खड्डे में डाल रही थी, लेकिन हवा में झूलता करीब 100 फीट लंबा और 2 फीट चौड़ाई वाला लाेहे का पाइप उधर से गुजर रही निजी ट्रेवल्स की बस के आर-पार हाे गया।

हाइड्राे मशीन से हवा में झूलता पाइप ड्राइवर सीट के पीछे वाली सीट की खिड़की ताेड़कर बस में घुसा और सबसे पीछे वाली सीट की खिड़की ताेड़कर पार हाे गया। इससे बस में बैठी एक महिला की गर्दन धड़ से अलग हाे गई। एक युवक का सिर फट गया। दाेनाें के क्षत-विक्षत शव बस से निकालकर पुलिस ने मोर्चरी में रखवाए। बस में सवार 11 लाेग घायल हाे गए, जिनमें 3 की हालत गंभीर है। 


इस जानलेवा लापरवाही के ये 3 बड़े जिम्मेदार

1. भूमिगत गैस पाइपलाइन बिछाने वाली कंपनी
कंपनी के अफसरों और कर्मचारियों ने चलते ट्रैफिक के बीच ही काम शुरू कर दिया। कोई ऐहतियात नहीं बरती गई।
2. एनएच-162 पर सांडेराव में तैनात ट्रैफिक पुलिस
काम के दौरान न तो ट्रैफिक डायवर्ट करने के इंतजाम किए और न ही कंपनी के कर्मचारियों पर सख्ती की।
3. हादसाग्रस्त निजी बस का चालक और परिचालक
हाइड्रोलिक मशीन से लटक रहे इतने लंबे व चौड़े लोहे के पाइप पर ध्यान ही नहीं दिया और हादसा हो गया।

Find Us on Facebook

Trending News