चित्रगुप्त पूजा आज, कलम के आराध्य देव की होती है पूजा, जानिए विधि-विधान

चित्रगुप्त पूजा आज, कलम के आराध्य देव की होती है पूजा, जानिए विधि-विधान

पटना. देशभर में आज चित्रगुप्त पूजा मनाई जा रही है। साल भर में इस एक दिन कायस्थ जाति के लोग कलम नहीं छूते हैं। ये परंपरा सदियों से चली आ रही है। वहीं, चित्रांश परिवार यानी कायस्थ जाति के लोग इस परंपरा को मानते हुए आ रहे हैं। इस दिन वो सब कलम-दवात की पूजा करते हैं। कलम दवात की पूजा करने के पीछे पौराणिक कथा प्रचलित है।

भारत को पारंपरिक और सांस्कृतिक उत्सव का देश कहा जाता है। यहां अलग-अलग सभ्यता, धर्म और संस्कृति से जुड़े लोग रहते हैं। सबका अपना अलग-अलग तरह के रीति रिवाज है। उनके पूजा पाठ करने के ढंग और तौर तरीके भी अलग-अलग हैं, लेकिन कायस्थ समाज में एक विशेष परंपरा प्रचलित है। चित्रगुप्त पूजा के दिन वो कलम नहीं छूते हैं।

मान्यता है कि चित्रगुप्त पूजा के दिन एक सफेद कागज पर श्री गणेशाय नम: और 11 बार ओम चित्रगुप्ताय नमः लिखकर पूजन स्थल के पास रख दिया जाता है। आप भगवान से बुद्धि, विद्या और लेखन का अशीर्वाद मांग सकते हैं। आज के दिन विशेष रूप से कायस्थ बंधु कलम के देवता माने जाने वाले भगवान चित्रगुप्त की पूजा करते हैं।

Find Us on Facebook

Trending News