CM नीतीश ने IAS अफसरों को खूब पुचकारा, कहा- हम कितना सम्मान देते हैं...दिल्ली की तरफ ध्यान मत दीजिए

CM नीतीश ने IAS अफसरों को खूब पुचकारा, कहा- हम कितना सम्मान देते हैं...दिल्ली की तरफ ध्यान मत दीजिए

PATNA:  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज जल-जीवन-हरियाली दिवस कार्यक्रम में शामिल हुए और प्रदर्शनी को देखा. ज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में सीएम नीतीश ने जल-जीवन-हरियाली के क्षेत्र में किये गए कामों से खुश नहीं दिखे। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों से कहा कि इतना काम से नहीं होगा और काम करना होगा। मुख्य़मंत्री ने कभी अधिकारियों को हड़काया तो कभी पुचकारा। इस दौरान सीएम नीतीश ने आईएएस अधिकारियों से कहा कि हम आपलोगों को कितना सम्मान देते हैं,दिल्ली की तरफ ध्यान मत दीजिए, यहीं पर ध्यान दीजिए। 

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम नीतीश जल-जीवन-हरियाली के क्षेत्र में किये गये कामों का बखान किया। उन्होंने कहा कि सरकार ने कुंआं-तालाबों व जल श्रोतों का जीर्णोद्धार कराया है। बाकि जो भी छुटे हुए काम हैं उसे पुरा करायें. उन्होंने सभी जिलों के डीएम और सभी विभाग के सचिवों से कहा कि हर सप्ताह आप जायजा लीजिए . आप लोग मीटिंग करते हैं, मीटिंग करने का मतलब ऐसे ही थोड़े हैं. मीटिंग में पूरी समीक्षा करिए। उसके बाद उस पर अमल करिए। हम सब अधिकारियों से अनुरोध करेंगे कि अपने-अपने डिपार्टमेंट में देखिए कि कहां कोई कमी है.  सार्वजनिक जल श्रोतों का जीर्णोद्धार करना है,उसको देखिए कहीं कहीं कोई कमी तो नहीं। कुछ जगह पर कुछ लोग कब्जा किए रहता है उसे भी देखिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि जल जीवन हरियाली कार्यक्रम में संतोषजनक काम नहीं हुआ है. नीतीश कुमार ने कहा कि काम को और तेज करवायें.  इतना काम से नहीं होगा. मुख्य़मंत्री ने चीफ सेक्रेट्री की तरफ इशारा करते हुए कहा कि समझ गए ना चीफ सेक्रेटरी साहब.  भागिए मत आप सब लोग रहिए और सब से बात करिए. सबसे राय लीजिए और उस पर अमल करिए। 

सीएम नीतीश ने कहा कि हम लोग जो असली काम कर रहे हैं उसका प्रचार नहीं करेगा. सीएम नीतीश ने आईएएस अफसरों से कहा कि आप लोग पुरस्कार के लिए दिल्ली मत लिखिए. यहीं पर खूब प्रचार करिए. प्रशंसा के चक्कर में मत पड़िए। प्रशंसा के चक्कर में नहीं पड़ना है. काम करते रहिए तो अपने आप प्रशंसा होगी. प्रशंसा होगी तो जनता को पता चलेगा, दिल्ली वाले प्रशंसा की चर्चा कर दीजिएगा तो लोगों को भ्रम हो जाएगा कि दिल्ली से ही काम हो रहा है. लोग समझेगा कि यह राज्य सरकार का नहीं है.आप लोग आईएएस अफसर है तो आपलोगों को लगता होगा यहां के साथ-साथ वहां दिल्ली भी रहें. इसलिए आप लोग दिल्ली लिखने के चक्कर में रहते हैं. आप लोगों को हम कितना इज्जत करते हैं ,आप लोगों को कितना सम्मान देते हैं ,आप लोग दिल्ली की तरफ ध्यान मत दीजिए, यहीं पर ध्यान दीजिए. पथ निर्माण विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत की तरफ इशारा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि ये क्यों किये हुए हो....क्या बात है. 

Find Us on Facebook

Trending News