दिल्ली जाने की तैयारी में सीएम नीतीश, 5 सितम्बर को विपक्षी नेताओं से कर सकते हैं मंथन, इन मुद्दों पर होगी बात

दिल्ली जाने की तैयारी में सीएम नीतीश, 5 सितम्बर को विपक्षी नेताओं से कर सकते हैं मंथन, इन मुद्दों पर होगी बात

पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 5 सितम्बर को दिल्ली जा सकते हैं. उनके वहां तीन दिनों तक रुकने की योजना है. सूत्रों के अनुसार सीएम नीतीश का यह दौरा इसलिए भी बेहद खास है क्योंकि वे बिहार में महागठबंधन की सरकार बनाने के बाद पहली बार दिल्ली जा रहे हैं. उनके वहां विपक्ष के बड़े नेताओं से मिलने की योजना है. इसमें कांग्रेस सहित कई अन्य दलों के नेता शामिल हो सकते हैं. उनके इस दौरे को विपक्षी एकता को एकजुट करने का बिगुल फूंकने के तौर पर देखा जा रहा है. 

जदयू ने पिछले महीने ही एनडीए से अलग होकर महागठबंधन संग सरकार बनाई है. उसके बाद सीएम नीतीश ने साफ तौर पर कहा था कि जो लोग 2014 में आए वे 2024 में नहीं आएंगे. उनका इशारा पीएम मोदी की ओर था जो 2014 से प्रधानमंत्री हैं. वहीं 2024 में लोकसभा चुनाव है. ऐसे में विपक्षी दलों के एकजुट करने और भाजपा के खिलाफ रणनीति बनाने के लिए नीतीश के इस दौरे की काफी अहमियत है. माना जा रहा है कि वे आने वाले दिनों में देश के कई अन्य गैर भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से भी मिल सकते हैं. 

पिछले सप्ताह ही तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चन्द्रशेखर राव ने पटना में नीतीश कुमार से मुलाकत की थी. दोनों नेताओं की मुलाकात को लोकसभा चुनाव 2024 से जोड़कर देखा जा रहा है. हालांकि नीतीश कुमार के प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने पर केसीआर ने चुप्पी साध ली थी. वहीं अब सीएम नीतीश के दिल्ली दौरे की चर्चा ने एक बार फिर से राजनीतिक सरगर्मी को बढ़ा दिया है. हालांकि दिल्ली में वे कब जाएंगे और कितने दिनों के रहने का प्लान इसकी कोई आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है. वहीं कांग्रेस के बिहार प्रदेश अध्यक्ष डॉ मदन मोहन सिंह ने कहा कि नीतीश कुमार 5 से 7 सितम्बर तक दिल्ली में रहेंगे और कांग्रेस सहित अन्य दलों के नेताओं से मिलेंगे. 

इस बीच, शनिवार को पटना में शुरू हुई जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी कार्यकर्ताओं ने नीतीश कुमार के लिए जोरदार नारेबाजी की. बैठक के दौरान देश का प्रधानमंत्री कैसा हो…नीतीश कुमार जैसा हो… नारा लगाया गया. वहीं जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने एक बार फिर से कहा है कि नीतीश कुमार को वर्ष 2024 में जदयू पीएम उम्मीदवार के रूप में पेश नहीं कर रही है. नीतीश कुमार भी इससे इनकार करते रहे हैं. 


Find Us on Facebook

Trending News