CM नीतीश का ऐलान, बिहार में अब बाहर के लोगों को भी रोजगार मिलेगा, हमने कर ली है तैयारी.....

CM नीतीश का ऐलान, बिहार में अब बाहर के लोगों को भी रोजगार मिलेगा, हमने कर ली है तैयारी.....

PATNA: बिहार विधान सभा चुनाव प्रचार के अंतिम दिन सीएम नीतीश कुमार की पांच चुनावी सभाएं थी। कटिहार में सीएम नीतीश ने पहली जनसभा की। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि 2005 से पहले बिहार की क्या स्थिति थी? शाम होते ही लोग घरों में दुबक जाते थे।हमने सबसे पहले अपराध पर नियंत्रण किया।जनसभा में बोलते हुए सीएम नीतीश ने कहा कि हम बिहार में ही रोजगार देंगे। हमने नई औद्योगिक पॉलिसी बना ली है। नई पॉलिसी से बिहार के लोगों को रोजगार तो मिलेगा ही,बड़ी संख्या में बाहर से भी लोग आयेंगे वे भी यहां आकर रोजगार करेंगे। कोरोना संकट में जब बाहर से लोग आये उनके रोजगार के लिए हमने नई पॉलिसी लाई है। केंद्र सरकार ने भी काफी मदद की है। 

नीतीश कुमार ने कहा कि आज जो लोग बोल रहे हैं कि रोजगार देंगे। जब उनका राज था तो कितने व्यापारी बिहार छोड़कर भाग गए थे। कितने डॉक्टर बिहार से पलायन किये थे। जिनके डर से बिहार के व्यापारी और शांति प्रिय लोग पलायन कर गए थे वे ही आज सवाल कर रहे कि बिहार में काम नहीं होने से लोग पलायन कर रहे .

नीतीश कुमार ने गिनाये अपने काम  

नीतीश कुमार ने कहा कि 2005 में हम यात्रा पर निकले थे तो कहा था कि न्याय के साथ विकास करेंगे। जब बिहार की जनता ने काम का मौका दिया तो हमने यही काम किया,सबके लिए सोचा और काम किया।समाज में सबको आगे बढ़ाने के लिए कदम उठाया,पहले महिलाओं की कोई प्रतिष्ठा नहीं थी,हमने पंचायतों में आरक्षण देकर महिलाओं को आगे किया। उनलोगों को जब काम करने का मौका मिला था तो कहां कुछ किया था महिलाओं और समाज के पिछड़े वर्गों के लिए....।अगर स,माज का विकास करना है तो महिलाओं को अवसर देना तभी आगे बढ़ सकता है। बिहार पहला राज्य है जहां महिलाओं को पंचायतों में आरक्षण देकर आगे बढ़ाया।

जनसभा को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि महिलाओं को सिर्फ आरक्षण ही नहीं दिया बल्कि शिक्षित करने का बीड़ा उठाया। इसके लिए पहले हाईस्कूल स्तर पर काम किया फिर उच्च शिक्षा में।अब देखिए इसका कितना फायदा मिल रहा ।आज जान लीजिए लड़कों और लड़कियों की हाईस्कूल स्तर तक दोनों की संख्या बराबर पर पहुंच गई है।

कुछ लोग जुबान चलाते हैं काम नहीं करते

नीतीश कुमार ने विरोधियों पर हमला बोलते हुए कहा कि कुछ लोग जुबान चलाते हैं काम नहीं करते।हम काम करते हैं उसका प्रचार नहीं करते। हमने जीविका के माध्यम से महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाया है। 10 लाख जीविका समूह के माध्यम से 1 करोड़ महिलायें जुड़ी हुई हैं।आप लोगों ने हमको मौका दिया तो सबको आगे बढ़ाया। हर समाज और हर इलाके के लिए काम किया। 

Find Us on Facebook

Trending News