दुल्हन के कमरे में पुलिस जांच का CM नीतीश ने किया समर्थन, कहा – क्या गलत किया

दुल्हन के कमरे में पुलिस जांच का CM नीतीश ने किया समर्थन, कहा – क्या गलत किया

PATNA : शराब की जांच के बहाने एक शादी समारोह में पटना पुलिस द्वारा दुल्हन के कमरे में घुसकर तलाशी लिए जाने के मामले ने तूल पकड़ लिया है। जहां बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी इस पूरी घटना की निंदा करते हुए इस निजता का हनन करार दिया है। वहीं दूसरी तरफ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस पूरी कार्रवाई का समर्थन कर रहे हैं। 

अपने शासन के 16 साल पूरे होने के अवसर पर पटना में आयोजित कार्यक्रम के दौरान जब उनसे जांच के नाम पर शादी समारोहों में पुलिस की छापेमारी को लेकर सवाल पूछा गया तो वह पटना पुलिस की कार्रवाई का समर्थन करते नजर आए। उन्होंने कहा कि पुलिस को जिम्मेदारी दी गई है। इसलिए वह सभी जगहों की जांच करने के लिए जा रहे हैं। हमने बैठक में स्पष्ट किया था कि वह एक-एक चीज को देखिए। अब वह जा रहे हैं।


शादी वाले घर की जांच के निर्देश

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री कार्यालय से हर कार्रवाई की निगरानी की जा रही है। पुलिस को यह सूचना मिली कि कुछ लोग शादी समारोहों में लोग शराब पीकर आ रहे हैं। जिसके बाद पुलिस जांच के लिए जा रही है। इसके लिए किसी को चिंता नहीं करनी चाहिए। यह बहुत अच्छा है। अगर गलत नहीं हैं तो डरने की जरुरत नहीं है। इस दौरान दुल्हन के घर में पुलिस के घुसने की बात पर सीएम ने कहा ऐसी खबर सामने आई है। हमारे कार्यालय से इस संबंध में जानकारी मांगी जा रही है। 

राबड़ी देवी और जगदानंद ने जताई थी आपत्ति

शराबबंदी के आड़ में महिलाओं के कमरे में बिना महिला पुलिस के तलाशी लेने पर राजद के नीतीश सरकार पर साधा निशाना नीतीश सरकार अनर्थ कर रही है,बिहार में शराब सप्लाय को नही रोक पा रही है।दुल्हन के बंद कमरे में जाने की किसी को इजाजत नही होती है। राबड़ी देवी ने इसे निजता का हनन करार दिया है।  उन्होंने कहा कि शराबबंदी के आड़ में महिलाओं के कमरे में बिना महिला पुलिस के तलाशी लेने पर राजद के नीतीश सरकार पर साधा निशाना नीतीश सरकार अनर्थ कर रही है,बिहार में शराब सप्लाय को नही रोक पा रही है। दुल्हन के बंद कमरे में जाने की किसी को इजाजत नही होती है। वहीं जगदानंद सिंह ने भी इस घटना पर अपनी आपत्ति जाहिर करते हुए कहा कि उनकी पार्टी में कोई शराब पीता पकड़ा गया को निष्कासित कर दिया जाएगा।

बता दें कि राजीव नगर में बीते रविवार को हो रहे एक शादी समारोह में पुलिस जांच के लिए पहुंची, इस दौरान बिना महिला पुलिस कर्मी के ही दुल्हन और दूसरे महिलाओं के कमरे की तलाशी ली थी। जिसका वीडियो सामने आने के बाद पटना पुलिस पर सवाल उठने लगे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News