कैंडल मार्च निकालकर कॉलेज छात्रा को दी श्रद्धाजंलि, पुलिस को 48 घंटे में आरोपियों को पकड़ने की दी चेतावनी

कैंडल मार्च निकालकर कॉलेज छात्रा को दी श्रद्धाजंलि, पुलिस को 48 घंटे में आरोपियों को पकड़ने की दी चेतावनी

सीतामढ़ी। बिहार के सीतामढ़ी में बीते दिन हुए मंजू हत्याकांड मामले में पुलिस के हाथ अभी तक खाली है. पुलिस लगातार तफ्तीश में जुटी है लेकिन कोई बड़ी कामयाबी पुलिस को अब तक नहीं मिली सकी है. इस निर्मम हत्याकांड के बाद से ही सीतामढ़ी में जन आक्रोश व्याप्त है. इस निर्मम हत्या को लेकर शहर में आज कैंडल मार्च निकालकर मृतका के लिए इंसाफ की मांग की गई.सभी ने एक स्वर में अपराधियों के गिरफ्तारी की मांग की है. कैंडल मार्च में सीतामढ़ी के पूर्व सांसद अर्जुन राय, राजद के जिलाध्यक्ष, सैनिक संगठन के अनिल कुमार समेत सैंकड़ों लोग शामिल हुए.

48 घंटे में हो गिरफ्तारी

कैंडल मार्च में शामिल पूर्व सांसद अर्जुन राय ने कहा कि राज्य में जंगलराज कहना गलत होगा, जिस तरह से यहां अपराधी सक्रिय हैं, इसे राक्षस राज कहना ज्यादा बेहतर होगा। हर दिन लूट, हत्या, रेप की घटनाएं सामने आ रही है और राज्य सरकार इसे रोकने में पूरी तरह से नाकाम साबित हुई है। जबकि किसी सरकार का मुख्य काम अपने राज्य की जनता को सुरक्षा और भयमुक्त माहौल देना होता है, लेकिन यह नीतीश सरकार उसमें पूरी तरह से नाकाम साबित हुआ है। पूर्व सांसद ने कहा कि जिले की बेटी के साथ दुष्कर्म कर उसकी बेरहमी से हत्या कर दी जाती है, लेकिन अभी तक पुलिस किसी अपराधी को पकड़ने में नाकाम साबित हुई है। अगले दो दिनों में पुलिस आरोपियों को पकड़ने में कामयाब नहीं होती है तो पूरे जिले में चक्का जाम आंदोलन किया जाएगा, साथ ही एसपी कार्यालय का घेराव किया जाएगा। पूर्व सांसद ने सभी आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद उनके खिलाफ स्पीडी ट्रायल चलाकर फांसी की सजा देने की मांग की।

 गौरतलब है कि बीते 8 जनवरी को सीतामढ़ी नगर थाना क्षेत्र के मोहनपुर पुल के नीचे 20 वर्षीय कॉलेज छात्रा मंजू का शव बोरे से बरामद हुआ था. परिजनों ने प्रेम प्रसंग में हत्या की आशंका जताई थी. इस मामले में पुलिस सभी बिंदुओं पर छानबीन कर रही है.


Find Us on Facebook

Trending News