केन्द्र की मोदी और बिहार की नीतीश सरकार पर जमकर बरसे कांग्रेसी नेता, कहा-एक ने देश तो दूसरे ने बिहार को कर दिया बदहाल

केन्द्र की मोदी और बिहार की नीतीश सरकार पर जमकर बरसे कांग्रेसी नेता, कहा-एक ने देश तो दूसरे ने बिहार को कर दिया बदहाल

PATNA : बिहार प्रदेश कांग्रेस के द्वारा चलाया जा रहे विधानसभा वार वर्चुअल रैली बिहार क्रांति महासम्मेलन में आज प्रदेश के कटिहार तथा पूर्णिया जिले के कार्यकर्ताओं तथा आमजनों के साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने दिल्ली तथा पटना स्थित मंच से संवाद स्थापित किया। दिल्ली मंच से  कांग्रेस की ओर से बिहार के सह प्रभारी अजय कपूर, पूर्व केन्द्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद, पूर्व सांसद उदित राज,प्रवक्ता रागिनी नायक,हरिद्वार के विधायक तथा बिहार स्क्रीनिंग कमेटी के सदस्य काजी निजामुद्दीन,कांग्रेस आईटी सेल के राष्ट्रीय संयोजक रोहन गुप्ता शामिल हुए। 

पिछले कई दिनो से अस्पताल में भर्ती बिहार प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी तथा राज्यसभा के सांसद शक्ति सिंह गोहिल कल ही वे अस्पताल से घर लौटे हैं। आज वे बी पहली बार बिहार क्रांति महासम्मेलन से जुड़े। वर्चुअल सम्मेलन को संबोधित करते हुए शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि बिहार का चुनाव पूरे देश में बदलाव लाएगा। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता पार्टी की जड़ होते हैं। उन्होंने कहा कि बिहार में भाजपा-जदयू की सरकार पूरी तरह से फेल है। अब जनता हमें आशा भरी निगाहों से देख रही है।

बिहार क्रांति महासम्मेलन को संबोधित करते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने देश को बर्बादी के मुहाने पर पहुंचा दिया है। वहीं बिहार के भाजपा-जदयू सरकार ने बिहार को बदहाल कर रखा है। उन्होंने सभी कांग्रेस नेता-कार्यकर्ताओं से अपील किया है कि आगामी विधानसभा चुनाव में बिहार में बदलाव लाने के पश्चात पुनः बिहार में खुशहाली लाने का संकल्प लें। 

सभा को संबोधित करते हुए पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रागिनी नायक ने कहा कि बिहार का चुनाव देश की दो बड़ी विचारधारा की चुनाव है।एक विचारधारा जोड़ना जानती है और दूसरी विचारधारा तोड़ना जानती है। उन्होंने कहा कि आज देश में गंगा-जमुनी तहजीब को तार-तार किया जा रहा है। जनता को डरा कर उसका शोषण किया जा रहा है। उन्होंने नारा दिया कि खुद्दार बिहार को लाचार सरकार से सवाल पूछना होगा।

कांग्रेस के राष्ट्रीय अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष नदीम जावेद ने कहा कि बिहार के इस चुनाव में बदलाव तय है। उन्होंने कहा कि आज टेक्नालॉजी के आधार पर चुनाव की बात हो रही है। चुनाव प्रचार तकनीकी माध्यमों से किया जा रहा है। जिसका श्रेय देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को जाता है। क्योंकि आज से 30 वर्ष पहले उन्होंने ही यह सपना देखा था। 

सभा को संबोधित करते हुए बिहार प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा ने कहा कि बिहार में परिवर्तन तय है। इस बार बिहार की जनता भाजपा तथा जदयू की सरकार को उखाड़   फेकेंगी। कांग्रेस के एक-एक कार्यकर्ता ने संकल्प लिया है कि इस बार बदलाव की लहर को मुकाम तक पहुंचाना होगा।

वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री तारिक अनवर ने कहा कि कोरोना काल में जब पूरा विपक्ष चुनाव आयोग से चुनाव आगे बढ़ाने की मांग कर रहा था। तब भी ऐसी परिस्थिति में चुनाव कराए जा रहे हैं। भाजपा तथा जदयू यह समझती है कि कोरोना काल में कराया जा चुनाव में उन्हे राजनीतिक फायदा होगा।मगर जनता इस बार 15 वर्षों से बिहार में सत्तासीन नीतीश सरकार को भलीभांति पहचान चुकी है। इसलिए इस चुनाव में भाजपा-जदयू की हार तय है।

सम्मेलन को संबोधित करते हुए पूर्व सांसद उदित राज ने कहा की केंद्र की भाजपा सरकार निजीकरण के नाम पर बेरोजगारी बढ़ा रही हैं। साथ ही आरक्षण भी खत्म कर रही है। उन्होंने कहा कि देश में बहुजनों-पिछड़ों, दलितों-आदिवासियों के लिए जो कांग्रेस ने किया है वह आज तक कोई और नहीं कर सका। सपा जैसी पार्टियां बहुजन कांसेप्ट के नाम पर बहुजनों को छलने का काम करते आई है। 

इस महासम्मेलन में पटना के मंच से प्रदेश अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा,कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष कोकब कादरी,श्याम सुंदर सिंह धीरज, विधान पार्षद समीर कुमार सिंह, विधायक शकील अहमद खान, संगठन महासचिव ब्रजेश पांडे, विधायक अफाक आलम, सुश्री पूनम पासवान, प्रवक्ता राजेश राठौर, आई.टी. सेल के चेयरमैन ई. संजीव सिंह, एन.एस.यु.आई. के पूर्व राष्ट्रिय पदाधिकारी दीपक नेगी, मंच पर मौजूद थे. वहीँ जया मिश्र, किरण शर्मा, मनोज सिंह, अशीफ गफूर, मिन्नत रहमानी समेत कई नेता जुड़े हुए थे।

Find Us on Facebook

Trending News