सीएम नीतीश के बयान पर भड़की कांग्रेस पार्टी, कहा शराब पीनेवाले शराब नहीं पियेंगे तो व्यापार मर जायेगा

सीएम नीतीश के बयान पर भड़की कांग्रेस पार्टी, कहा शराब पीनेवाले शराब नहीं पियेंगे तो व्यापार मर जायेगा

BHAGALPUR : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पहल पर पूरे सूबे में शराबबंदी लागू है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पूरे बिहार में पूर्णरूपेण शराबबंदी को लेकर कई उपाय किये ताकि बिहार शराब मुक्त हो। जन जागरूकता के लिए पोस्टर बैनर तो कहीं नुक्कड़ नाटक तो कहीं शराब नहीं पीने को लेकर शपथ ग्रहण तक कराया गया। उनके एक बयान पर राजनीतिक सरगर्मी काफी तेज है। उन्होंने कहा "जो शराब पिएंगे वह बिहार नहीं आएंगे।" 

इस पर कांग्रेस बिहार विधान मंडल दल के नेता और  भागलपुर विधायक अजीत शर्मा ने कहा की नीतीश कुमार का यह फरमान सरासर गलत है। अगर शराब पीने वाले यहां नहीं आएंगे तो यहां के लोगों का व्यवसाय मर जाएगा। कोई फल सब्जी का व्यापार करते हैं तो कोई चावल मक्का तो कोई रेशम व खादी वस्त्रों का। अगर व्यापारी यहां आएंगे नहीं तो हम लोगों का व्यापार मर जाएगा और हम लोग मर जाएंगे। 

विधायक अजीत शर्मा ने कहा की क्या लोग अपने घर नहीं आएंगे। अपने बच्चों से नहीं मिलेंगे। शर्मा ने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री को कहना चाहिए कि यहां शराबबंदी है। कृपया शराब यहां ना पिए। नहीं तो कानून आप को गिरफ्त में ले लेगा। मीडिया से बात करते हुए शर्मा का यह भी कहना हुआ कि मुख्यमंत्री ने जो स्टेटमेंट दिया है कि जो शराब पीते हैं। वह बिहार ना आए। उस पर उन्हें चिंतन करने की जरूरत है। साथ ही साथ उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी आप घर से बेदखल किसी को नहीं कर सकते। जनता का अधिकार है। उनको अपना घर आना है, वह आके ही रहेगे।

भागलपुर से अंजनी कुमार कश्यप की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News