करारी हार के बाद कांग्रेस की नई रणनीति, अब मोदी पर सीधे अटैक नहीं

करारी हार के बाद कांग्रेस की नई रणनीति, अब मोदी पर सीधे अटैक नहीं

NEWS4NATION DESK : लोकसभा चुनाव में करारी हार से कांग्रेस पार्टी ने एक बड़ा सबक लिया है। कांग्रेस ने अब पीएम मोदी पर सीधा हमला करने से बचने की रणनीति अपनाई है। पार्टी अब पीएम मोदी पर कोई सीधा अटैक न कर आम जनता के मुद्दों को लेकर उनके सरकार को घरेगी। 

बता दें पूरे चुनाव के दौरान कांग्रेस पीएम मोदी पर हमलावर रही थी। उसके सीधे निशाने पर सिर्फ और सिर्फ पीएम मोदी रहे थे।
 दरअअसल लोकसभा चुनाव में करारी हार और कई राज्यों में उसका सूपड़ा साफ हो जाने के बाद अब कांग्रेस को लग रहा है कि चुनाव के दौरान जरुरत से ज्यादा पीएम मोदी पर उनका हमला बोलना मोदी के पक्ष में चला गया और जनता ने उन्हें नकार दिया।

उल्लेखनीय है कि मोदी सरकार के पहले टर्म में कांग्रेस सीधे पीएम नरेंद्र मोदी और मोदी सरकार पर कहकर हमले बोलती रही। इतना ही नहीं, राफेल मामले में कांग्रेस ने बाकायदा पीएम मोदी के खिलाफ 'चौकीदार चोर है' का नारा बुलंद किया।
 

अब कांग्रेस को यह लग रहा है कि पीएम मोदी और उनके नेतृत्व में बीजेपी जिस तरह से विशालकाय बहुमत से जीत कर आई है, उसके चलते माहौल उनके पक्ष में है। ऐसे में अगर नकारात्मक हमला होता है तो कांग्रेस को और नुकसान होगा। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता शेरगिल का कहना है कि यह समय तू-तू मैं-मैं का नहीं है। कांग्रेस संसद के भीतर व बाहर जिम्मेदार व सशक्त विपक्ष की भूमिका निभाएगी। वह आम जनता से जुड़ी समस्याओं को उठाएगी।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कांग्रेस की रणनीति है कि वह किसी व्यक्ति विशेष पर या निजी हमला करने से बचेगी। निजी हमले केवल तभी होंगे, जब कोई निजी मामला होगा या ऐसा कोई मुद्दा होगा, जो किसी व्यक्ति से जुड़ा होगा।

पार्टी ने तय किया है कि वह आम लोगों के जीवन या उनसे जुड़े मसले उठाएगी, जिससे वह लोगों के बीच एक सकारात्मक विपक्ष की भूमिका को रख सके। नतीजों के बाद अगर कांग्रेस अध्यक्षराहुल गांधी के संबोधन पर ध्यान दिया जाए तो वह लगातार सकारात्मक व रचनात्मक विपक्षी भूमिका निभाने की बात करते रहे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News